--Advertisement--

यूपी में ट्रिपल तलाक के दो नए केस, आरोप- दूसरों के साथ रात गुजारने को कहता था पति

इलाहाबाद और आगरा में सामने आया है मामला।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 12:14 PM IST
पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर

इलाहाबाद/ आगरा. यूपी के आगरा और कौशांबी में ट्रिपल तलाक का मामला सामने आया है। कौशांबी जनपद के मंझनपुर थाना क्षेत्र में पति ने अपनी पत्नी को फोन पर ट्रिपल तलाक दिया है। फोन पर हुए इस तलाक के बाद महिला ने अपने शौहर के खिलाफ मंझनपुर थाने में केस दर्ज कराया है। पुलिस ने मामले की इन्वेस्टिगेशन शुरू कर दी है।


किराए के मकान पर रहती थी महिला

-कौशांबी के नगर पंचायत मंझनपुर के चकनगर में रहने वाली महिला अपने पति की पआताड़ना के कारण अलग से किराए के मकान में रहती थी। रोजी बेगम का निकाह वहीं के मोहम्मद सोहराब उर्फ असलम के साथ हुआ था। पीड़िता का आरोप है- "शादी के कुछ वर्ष बीतने के बाद सोहराब उसे प्रताड़ित करने लगा था। इस प्रताड़ना से तंग आकर वह किराए का मकान लेकर अपने बच्चों के साथ अलग रहने लगी थी।"
-दोनों के 3 बच्चे भी हैं। तीनों बच्चे ईदगाह के समीप स्थित एहसानिया मदरसा में पढ़ाई कर रहे हैं।
-कुछ दिन पहले ही पीड़िता का पति बच्चों को ले गया था। जिसके लिए महिला ने सदर कोतवाली में बच्चों को गायब होने का केस दर्ज कराया था।
-पीड़िता ने बताया- "जब बच्चे मदरसा में पढ़ने गए थे तो उसका पति बच्चों को बहला-फुसलाकर कहीं लेकर चला गया। उसने बच्चों को काफी खोजा लेकिन उनका कहीं पता नहीं चल सका। अब महिला को आशंका है कि उसके पति ने उसके बच्चों को कहीं बेच ना दे।

रविवार को दिया तलाक

-पीड़िता ने बताया- " रविवार को उसके पति ने अपने एक दोस्त के युवक से फोन कर उसे तीन तलाक दे दिया।" फोन पर तलाक सुनकर महिला के होश उड़ गए।
-पीड़िता आरोप है कि, उसका पति शराब के नशे में उस पर दूसरों के साथ रात गुजारने का दबाव डालता था। इतना ही नहीं उसका पति रोज शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था। हफ्ते भर पहले उसके पति ने उसको फोन कर तांत्रिक से फोन कराकर उसके साथ रात गुजारने को कहा था। पत्नी ने इसका विरोध किया तो शौहर ने बाद में एक दोस्त के फोन से कॉल कर उसको तीन बार तलाक बोल दिया।

क्या कहना है पुलिस का

-इंस्पेक्टर मंझनपुर धनंजय वर्मा ने बताया- "महिला के द्वारा तीन तलाक का केस दर्ज कराया गया है। इसके पहले भी महिला ने अपने पति के खिलाफ एक केस दर्ज कराया था। दोनों मामलों की जांच कर जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।"


आगरा में भी ट्रिपल तलाक का मामला

-वहीं, आगरा थाना शाहगंज की रहने वाली युवती को उसके पति ने शादी के 7 माह बाद ही तीन तलाक दे दिया है। परेशान युवती को पड़ोसन ने बस स्टैंड पहुंचाया और किराये के पैसे दिए तब जाकर युवती मायके पहुंच। पीड़िता की शिकायत पर एसपी सिटी ने केस दर्ज कराने के आदेश दिए हैं।
-जानकारी के अनुसार शाहगंज की रहने वाली शबीना की शादी 21 मई, 2017 को नजील गांव कस्बा सैयां में आमिर उर्फ साबिर के साथ हुआ था। शबीना के अनुसार शादी के समय उसे पति के एमबीए और सॉफ्टवेयर इंजीनियर होने और नोएडा की एक कपड़ा फैक्ट्री में काम करने की बात बताई गई थी।
-पीड़िता ने बताया- "शादी के बाद पति हमें अपने घर न ले जाकर अपनी बुआ के घर लोहामंडी आगरा ले गया और बोला कि बुआ मैं यहां ही रहा हूं और यही घर अपना समझो।"
-चार दिन रहने के बाद मायके भेज दिया और खुद नौकरी की बात कहर नोएडा चला गया। एक माह मायके में रहने के बाद वो मुझे अपने साथ नोएडा लेकर गया। यहां पहुंचते ही मारपीट करने लगा। इसके बाद 25 दिन रहने पर पति ने सेलरी होल्ड होने का बहाना किया और उसे मायके भेज दिया। दो माह में उसने तीन अलग अलग जगह कमरे बदले तो मुझे कुछ अजीब लगा।
-जानकारी करने पर पता चला कि वो पहले भी दो शादियां कर चुका है और न उसकी नौकरी का कोई पता है और वो फ्राडगिरी का काम करता है। 17 सितंबर, 2017 को पति ने झगड़ा किया और अचानक तीन बार तलाक बोल दिया।
- उसके बाद शबीना कई म्हीनों तक तक इंतजार करती रही। लेकरिन जब पति की तरफ से कोई रिस्पांस नहीं मिला तो सोमवार (8 जनवरी, 2018) को एसपी सिटी ऑफिस में शिकायत की। जिसके बाद एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह ने मामले में तत्काल केस दर्ज कराने के आदेश दिए हैं।

X
पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..