विज्ञापन

UP बोर्ड में स्टूडेंट्स को आधार कार्ड ले जाना हुआ जरूरी, इसलिए किया गया ऐसा

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2017, 11:54 AM IST

6 फरवरी से शुरू हो रहे हैं यूपी बोर्ड कक एग्जाम्स।

UP Board new Step For Cheaters
  • comment
इलाहाबाद. यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा में अब प्रवेश पत्र के साथ आधार कार्ड भी लाना जरूरी होगा। 6 फरवरी से शुरू होगी परीक्षा। मंगलवार को बोर्ड परीक्षा के लिए ऑनलाइन केंद्र निर्धारण पर अपर मुख्य सचिव संजय अग्रवाल की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद इलाहाबाद के जिला निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा ने जिले के सभी स्कूलों के प्रधानाचार्यों को पत्र जारी कर परीक्षार्थियों का आधार कार्ड बनवाने का निर्देश दिया है।
यूपी बोर्ड की परीक्षा में शामिल होंगे 67,29,540 परीक्षार्थी
- इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षा हाईस्कूल और इंटर मिलाकर टोटल बालक और बालिकाओं की संख्या 67,29,540 है। जिसमें हाई स्कूल में 37,12,508 परीक्षार्थी में बालकों की संख्या 21,93,030 है और बालिकाओं की संख्या 15,19,478 है।
- इंटर में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या टोटल 30,17,032 है, जिसमें बालकों की संख्या 17,06,479 है और बालिकाओं की संख्या 13,10,553 है।
नकल माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए आधार कार्ड हुआ जरूरी
- नकल माफियाओं पर लगाम लगाने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य किया गया है। हर साल बड़ी संख्या में फर्जी छात्र नकल माफियाओं से सांठगांठ कर परीक्षा में शामिल हो जाते थे। आधार कार्ड होने पर उनकी पहचान हो सकेगी इसलिए बोर्ड परीक्षा में फर्जीवाड़ा रोकने के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य किया गया है।
- जो छात्र-छात्राएं प्रवेश पत्र के साथ आधार कार्ड नहीं लाते, तो वो परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे। यदि आधार कार्ड के अभाव में कोई भी विद्यार्थी परीक्षा से वंचित होता है, तो उसकी जिम्मेदारी प्रधानाचार्य की होगी।

X
UP Board new Step For Cheaters
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें