अयोध्या विवाद / उप्र के उपमुख्यमंत्री मौर्य बोले- सुप्रीम कोर्ट ने संकेत दिए, राम भक्तों की प्रतीक्षा समाप्त होने वाली है



कार्यक्रम उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य। कार्यक्रम उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य।
X
कार्यक्रम उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य।कार्यक्रम उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य।

  • उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गृह नगर कौशांबी में 160 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया
  • उन्होंने कहा- अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने सकारात्मक संकेत दिए, 17 अक्टूबर को सुनवाई पूरी हो रही है

Dainik Bhaskar

Oct 06, 2019, 04:28 PM IST

कौशांबी.  उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को अयोध्या मुद्दे को लेकर बयान दिया। कौशांबी में उन्होंने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट ने संकेत दे दिए हैं। आशा है कि राम भक्तों की प्रतीक्षा खत्म होने वाली है। जल्द ही अयोध्या में भव्य मंदिर बनाया जाएगा।' सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या के विवादित स्थल मामले की रोजाना सुनवाई हो रही है।

 

यहां आयोजित एक सभा में उन्होंने कहा, 'अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने सकारात्मक संकेत दिया है। 17 अक्टूबर को सुनवाई पूरी हो रही है। अगले महीने श्रीराम लला मंदिर निर्माण संबंधी फैसला आने वाला है। इसलिए राम लला का भव्य मंदिर जो हर राम भक्त की प्रतीक्षा है, वह समाप्त होने होने वाली है। ऐसी वह आशा करते हैं। 

 

मौर्या रविवार को अपने पिता की पुण्यतिथि पर अपने गृह नगर कौशाम्बी के सिराथू पहुंचे थे। यहां उन्होंने प्रशासनिक अफसरों के साथ बैठक कर विकास, कानून व्यवस्था जैसे कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर  चर्चा की। सिराथू विधानसभा के लिए 160 करोड़ की परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया।

 

नासिक रैली में मोदी ने कहा था- बयान बहादुर न्याय प्रणाली पर श्रद्धा रखें
महाराष्ट्र के नासिक में 19 सिंतबर को आयोजित रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर पर बयान देने वालों को नसीहत दी थी। उन्होंने कहा था कि कुछ बयान बहादुर लोग अनाप-शनाप बोल रहे हैं। वह भी तब, जब कोर्ट सभी की सुन रहा है। मैं हाथ जोड़कर कहना चाहता हूं कि बयान बहादुर लोग भगवान के लिए, प्रभु राम के लिए भारत की न्याय प्रणाली में विश्वास रखें। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना