घर बैठे देखें कुंभ / पूर्व सीएम वसुंधरा राजे व शिवराज सिंह चौहान ने संगम में लगाई डुबकी, नहीं पहुंच पाए पूर्व सीएम अखिलेश



कार्यक्रम प्रस्तुत करती महिला कलाकार। कार्यक्रम प्रस्तुत करती महिला कलाकार।
कुंभ में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार। कुंभ में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार।
संतों को प्रसाद बांटतीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे। संतों को प्रसाद बांटतीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे।
पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज के साथ पूर्व सीए। पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज के साथ पूर्व सीए।
राजे ने अवधेशानंद के आश्रम का भ्रमण किया। राजे ने अवधेशानंद के आश्रम का भ्रमण किया।
आश्रम में बने बालाजी के मंदिर में पूजा अर्चना की। आश्रम में बने बालाजी के मंदिर में पूजा अर्चना की।
कुंभ नगरी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम है। कुंभ नगरी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम है।
संगम किनारे का दृश्य। संगम किनारे का दृश्य।
मेले में आते श्रद्धालु। मेले में आते श्रद्धालु।
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
पूर्व सीएम शिवराज ने मंगलवार को संगम में पत्नी संग किया स्नान। पूर्व सीएम शिवराज ने मंगलवार को संगम में पत्नी संग किया स्नान।
X
कार्यक्रम प्रस्तुत करती महिला कलाकार।कार्यक्रम प्रस्तुत करती महिला कलाकार।
कुंभ में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार।कुंभ में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते कलाकार।
संतों को प्रसाद बांटतीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे।संतों को प्रसाद बांटतीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे।
पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज के साथ पूर्व सीए।पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज के साथ पूर्व सीए।
राजे ने अवधेशानंद के आश्रम का भ्रमण किया।राजे ने अवधेशानंद के आश्रम का भ्रमण किया।
आश्रम में बने बालाजी के मंदिर में पूजा अर्चना की।आश्रम में बने बालाजी के मंदिर में पूजा अर्चना की।
कुंभ नगरी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम है।कुंभ नगरी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम है।
संगम किनारे का दृश्य।संगम किनारे का दृश्य।
मेले में आते श्रद्धालु।मेले में आते श्रद्धालु।
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
kumbh 2019 today schedule cultural dance and more than 100 communities together
पूर्व सीएम शिवराज ने मंगलवार को संगम में पत्नी संग किया स्नान।पूर्व सीएम शिवराज ने मंगलवार को संगम में पत्नी संग किया स्नान।

  • सोमवार रात कर्नाटक व मध्य प्रदेश से जनजातीय श्रद्धालुओं का जत्था कुंभनगरी पहुंचा
  • राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा और एमपी के पूर्व शिवराज सिंह चौहान ने पत्नी संग लगाई डुबकी 

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2019, 10:46 AM IST

प्रयागराज. राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया सोमवार की देर शाम संगम नगरी पहुंची। मंगलवार सुबह यहां उन्होंने त्रिवेणी में स्नान किया और जूना अखाड़े के आचार्य पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि महाराज के कैंप में दर्शन व पूजन किया। पूजन करने के साथ ही कैंप में बनाए गए बालाजी मंदिर में दर्शन कर यज्ञशाला सहित अन्य स्थानों पर पहुंची। इससे पहले वसुंधरा राजे ने अक्षयवट, बड़े हनुमान मंदिर का दर्शन-पूजन किया। उन्होंने अधेशानंद गिरि महाराज के साथ साधु संतों को लंगर का प्रसाद बांटा। इसके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी मंगलवार को कुंभ आना था लेकिन उन्हें मंगलवार सुबह लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक दिया गया। विवादों में घिरने के बाद वह लखऊ एयरपोर्ट से ही वापस लौट गए। इस बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कल कुंभ पहुंचकर संगम में आस्था की डुबकी लगाएंगे।

 

 

नहीं पहुंच पाए अखिलेश यादव; समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को मंगलवार को बाघंबरी गद्दी मठ में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि महाराज से मुलाकात करनी थी। लेकिन उन्हें मंगलवार सुबह अमौसी एयरपोर्ट पर ही रोक दिया गया। उन्होंने प्रयाग में संतों के साथ दोपहर में भोजन करना था। परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने बताया था कि पूर्व सीएम दोपहर एक बजे मठ पहुंचने वाले थे। 

 

कल संतों से मुलाकात करेंगे शाह; अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर गरमाई सियासत के बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को संतों के बीच होंगे। प्रयागराज आ रहे शाह अखाड़ा परिषद तथा अन्य प्रमुख संतों से मुलाकात करेंगे। एक दिन का उनका पूरा कार्यक्रम निजी और आध्यात्मिक बताया जा रहा है। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भी आने की संभावना है।

 

 

100 से अधिक जनजातीय समुदायों का समागम; दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक पर्व कुंभ मेले की दिव्यता व अलौकिक छटा को देखने के लिए कर्नाटक व मध्य प्रदेश से जनजातीय श्रद्धालुओं का जत्था कुंभनगरी पहुंचा है। ये सभी अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा 12 फरवरी से 15 फरवरी तक सेक्टर-14 मे आयोजित कार्यक्रम जनजाति समागम में हिस्सा लेंगे। इस चार दिवसीय कार्यक्रम में केरल से लेकर हिमाचल प्रदेश तक और गुजरात से नागालैंड तक के विभिन्न राज्यों से 6 हजार से अधिक लोग कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस आयोजन में देश के 100 से अधिक जनजातीय समुदायों का प्रतिनिधित्व होगा। 

 

15 फरवरी को होगा समापन; कार्यक्रम संयोजक अजय शर्मा ने बताया कि मंगलवार सुबह इस उपलक्ष्य में एक प्रदर्शनी का उद्घाटन कार्यक्रम स्वामी अवधेशानन्द गिरी के सानिध्य में सम्पन्न होगा। इस अवसर पर विभिन्न जनजाति के संतवृन्द, जनजाति प्रमुख उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम में संतों का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। समागम में विभिन्न जनजातियों का पारम्परिक नृत्यों का आकर्षक प्रस्तुतीकरण किया जाएगा। 14 फरवरी को सभी प्रतिनिधि वासुदेवानंद सरस्वती महाराज, महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी रघुनाथदास जी महाराज एवं महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी यतिंद्रानंद गिरी महाराज के नेतृत्व में शोभायात्रा के साथ संगम पर स्नान करने जाऐंगे। यह एक ऐतिहासिक कार्यक्रम होगा। दिनांक 13, 14 एवं 15 को दोपहर 2 बजे से 7 बजे तक विभिन्न संतो एवं जनजाति प्रमुखों का मार्गदर्शन जनजातीय नृत्यों का प्रदर्शन किया जाएगा। 15 फरवरी 2019 को समापन कार्यक्रम सम्पन्न होगा।

 

 

 

 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना