--Advertisement--

कुंभ / मकर संक्रांति पर पहला शाही स्नान कल; देशभर से आए श्रद्धालुओं ने डेरा डाला

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 09:56 AM IST


कुंभ में श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो गया है। सामान लेकर कुंभ मेला में जातीं महिला श्रद्धालु। कुंभ में श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो गया है। सामान लेकर कुंभ मेला में जातीं महिला श्रद्धालु।
कल्पवास के लिए साजो-सामान के साथ पहुंचे श्रद्धालु। कल्पवास के लिए साजो-सामान के साथ पहुंचे श्रद्धालु।
संगम में स्नान के लिए जाता योगियों का जत्था। संगम में स्नान के लिए जाता योगियों का जत्था।
संगम में कलरव करते पक्षी। संगम में कलरव करते पक्षी।
साधुओं के साथ नाचते भक्त। साधुओं के साथ नाचते भक्त।
संगम की रेती पर अनोखी मुद्रा में दिख रहे साधु। संगम की रेती पर अनोखी मुद्रा में दिख रहे साधु।
किन्नर समुदाय के लोग। किन्नर समुदाय के लोग।
संगम में लगा किन्नरों का मंडप। संगम में लगा किन्नरों का मंडप।
रविवार को विधिवत स्नान और सुरक्षा के लिए पुलिस विभाग ने पूजा-अर्चना की। रविवार को विधिवत स्नान और सुरक्षा के लिए पुलिस विभाग ने पूजा-अर्चना की।
सुरक्षा की शपथ लेते पुलिसकर्मी। सुरक्षा की शपथ लेते पुलिसकर्मी।
X
कुंभ में श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो गया है। सामान लेकर कुंभ मेला में जातीं महिला श्रद्धालु।कुंभ में श्रद्धालुओं का आगमन शुरू हो गया है। सामान लेकर कुंभ मेला में जातीं महिला श्रद्धालु।
कल्पवास के लिए साजो-सामान के साथ पहुंचे श्रद्धालु।कल्पवास के लिए साजो-सामान के साथ पहुंचे श्रद्धालु।
संगम में स्नान के लिए जाता योगियों का जत्था।संगम में स्नान के लिए जाता योगियों का जत्था।
संगम में कलरव करते पक्षी।संगम में कलरव करते पक्षी।
साधुओं के साथ नाचते भक्त।साधुओं के साथ नाचते भक्त।
संगम की रेती पर अनोखी मुद्रा में दिख रहे साधु।संगम की रेती पर अनोखी मुद्रा में दिख रहे साधु।
किन्नर समुदाय के लोग।किन्नर समुदाय के लोग।
संगम में लगा किन्नरों का मंडप।संगम में लगा किन्नरों का मंडप।
रविवार को विधिवत स्नान और सुरक्षा के लिए पुलिस विभाग ने पूजा-अर्चना की।रविवार को विधिवत स्नान और सुरक्षा के लिए पुलिस विभाग ने पूजा-अर्चना की।
सुरक्षा की शपथ लेते पुलिसकर्मी।सुरक्षा की शपथ लेते पुलिसकर्मी।

  • पहली बार 8 किलोमीटर लंबे संगम तट पर स्नान की व्यवस्था
  • रविवार रात से संगम मेला क्षेत्र में वाहनों का प्रतिबंध

प्रयागराज (इलाहाबाद). मकर संक्रांति पर कुंभ के पहले शाही स्नान में डुबकी लगाने के लिए देश के कोने-कोने से श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला शुरू हो चुका है। पूरे संगम परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ दिखने लगी है। सिर पर आस्था की गठरी और मन में पुण्य की आस लिए लाखों लोग संगम में डेरा डाल चुके हैं। पहली बार श्रद्धालु आठ किलोमीटर लंबे संगम तट पर डुबकी लगाए जाने की व्यवस्था की गई है।

 

अरैल, फाफामऊ, झूंसी क्षेत्र से श्रद्धालुओं के देर रात तक संगम पहुंचने का सिलसिला जारी रहा। इसके साथ ही विभिन्न जिलों से भी लोग मेला क्षेत्र में बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए रविवार रात से ही संगम इलाके में वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है।


कुंभ में मकर संक्रांति के अवसर पर पहले शाही स्नान को देखते हुए अविरल निर्मल गंगा का प्रवाह मिलेगा। इसके लिए टिहरी और नरौरा से अतिरिक्त पानी छोड़ा जाने लगा है। इससे पहले रविवार को केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे ने मेला परिसर में नए अस्पताल का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर अखाड़ों के महामंडलेश्वर भी मौजूद थे।


कुंभ के दौरान परिसर की सुरक्षा और सकुशल स्नान के लिए अधिकारियों ने संगम परिसर में विधिवत पूजा-अर्चना की। अधिकारियों और पुलिस जवानों ने सुरक्षा की शपथ ली।

Astrology
Click to listen..