कुंभ  / आतंकी हमले से निपटने के लिए हुई मॉक ड्रिल, एनडीआरएफ समेत कई विभागों के जवानों ने लिया हिस्सा



मॉक ड्रिल के दौरान लक्ष्य पर निशाना लगाता जवान मॉक ड्रिल के दौरान लक्ष्य पर निशाना लगाता जवान
आतंकी को पकड़कर ले जाते जवान आतंकी को पकड़कर ले जाते जवान
घायल लोगों को इलाज के लिए ले जाते कर्मचारी घायल लोगों को इलाज के लिए ले जाते कर्मचारी
लक्ष्य पर निशाना साधते जवान लक्ष्य पर निशाना साधते जवान
संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग करते जवान संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग करते जवान
संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग
घायल साथी को ले जाते जवान घायल साथी को ले जाते जवान
लक्ष्य की तरफ बढते जवान लक्ष्य की तरफ बढते जवान
खतरे की सूचना देता जवान खतरे की सूचना देता जवान
सामान की चेकिंग करता जवान सामान की चेकिंग करता जवान
तलाशी अभियान चलाते जवान तलाशी अभियान चलाते जवान
गश्तर करते जवान गश्तर करते जवान
X
मॉक ड्रिल के दौरान लक्ष्य पर निशाना लगाता जवानमॉक ड्रिल के दौरान लक्ष्य पर निशाना लगाता जवान
आतंकी को पकड़कर ले जाते जवानआतंकी को पकड़कर ले जाते जवान
घायल लोगों को इलाज के लिए ले जाते कर्मचारीघायल लोगों को इलाज के लिए ले जाते कर्मचारी
लक्ष्य पर निशाना साधते जवानलक्ष्य पर निशाना साधते जवान
संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग करते जवानसंदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग करते जवान
संदिग्ध वस्तुओं की चेकिंगसंदिग्ध वस्तुओं की चेकिंग
घायल साथी को ले जाते जवानघायल साथी को ले जाते जवान
लक्ष्य की तरफ बढते जवानलक्ष्य की तरफ बढते जवान
खतरे की सूचना देता जवानखतरे की सूचना देता जवान
सामान की चेकिंग करता जवानसामान की चेकिंग करता जवान
तलाशी अभियान चलाते जवानतलाशी अभियान चलाते जवान
गश्तर करते जवानगश्तर करते जवान

  • मॉक ड्रिल के दौरान आतंकी हमले से निपटने का हुआ अभ्यास
  • एक घंटे से अधिक समय तक चला सुरक्षा अभ्यास 

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2019, 03:14 PM IST

प्रयागराज (इलाहाबाद). कुंभ में आने वाले लाखों पर्यटकों की सुरक्षा को लेकर पुलिस विभाग और सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह से सतर्क हैं। किसी भी तरह के आतंकी हमले से निपटने के लिए शुक्रवार को एक मॉक ड्रिल की गई। इसमें एनडीआरएफ, पुलिस, एसएसबी समेत कई विभागों के जवानों ने हिस्सा लिया। इस दौरान लोगों को आतंकी हमले को लेकर अलर्ट किया गया और फिर उनके खिलाफ अभियान चलाया गया।

 

आतंकी हमला होने के समय घायलों की किस तरह से मदद करनी है इसका भी अभ्यास किया गया। इस रिहर्सल के लिए दो टीमें बनाई गईं थी और इसमें एक शख्स को आतंकी का लुक दिया गया था। अभ्यास के दौरान आतंकी को पकड़ते हुए भी दिखाया गया। 

COMMENT