उप्र / पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को राहत; इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मंजूर की जमानत

इलाहाबाद हाईकोर्ट। इलाहाबाद हाईकोर्ट।
X
इलाहाबाद हाईकोर्ट।इलाहाबाद हाईकोर्ट।

  • चिन्मयानंद के वकील ओम सिंह ने छात्रा व उसके दोस्तों पर दर्ज कराया पांच करोड़ रंगदारी मांगने का केस
  • बीते 25 सितंबर को एसआईटी ने छात्रा को किया था गिरफ्तार
  • छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर दर्ज कराया याैन शोषण का केस
  • सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर एसआईटी कर रही मामले की जांच
  • एसआईटी हाईकोर्ट में दाखिल कर चुकी है अपनी रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 05:10 PM IST

प्रयागराज. पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद से पांच करोड़ की रंगदारी मांगने के आरोप में बीते 39 दिनों से जेल में निरुद्ध शाहजहांपुर एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को जमानत दे दी। एसआईटी ने छात्रा को 25 सितंबर को गिरफ्तार किया था। छात्रा ने चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। जिसके बाद चिन्मयानंद के वकील ओम सिंह ने छात्रा व उसके तीन दोस्तों पर रंगदारी का केस दर्ज कराया था। चिन्मयानंद अभी भी जेल में बंद हैं। 

निचली अदालत से खारिज हुई थी जमानत याचिका
छात्रा ने जमानत के लिए शाहजहांपुर में जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत में याचिका दाखिल की थी। लेकिन अर्जी खारिज कर दी गई थी। जिसके बाद छात्रा ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण ली। छात्रा के जमानत याचिका पर बीते दो दिसंबर को सुनवाई होनी थी। लेकिन सुनवाई टल गई थी। कोर्ट ने चार दिसंबर तारीख तय की थी। बुधवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में जस्टिस एसडी सिंह की बेंच ने छात्रा की याचिका पर सुनवाई करते हुए उसकी जमानत अर्जी को मंजूर कर लिया। 2 दिसंबर को छात्रा की अर्जी पर सुनवाई के दौरान जज अशोक कुमार की एकल पीठ ने खुद को सुनवाई से अलग कर लिया था।

24 अगस्त को सामने आया था विडियो
शाहजहांपुर में स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा ने 24 अगस्त को एक विडियो वायरल कर स्वामी चिन्मयानंद पर शारीरिक शोषण और कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने के आरोप लगाए थे। वीडियो वायरल होने के बाद छात्रा लापता हो गई थी। बाद में पुलिस ने राजस्थान से उसे बरामद किया था।

चिन्मयानंद के खिलाफ दर्ज हुआ था केस
इस मामले में 25 अगस्त को पीड़िता के पिता की ओर से कोतवाली शाहजहांपुर में अपहरण और जान से मारने की धाराओं में स्वामी चिन्मयानंद के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया था। इसके बाद स्वामी चिन्मयानंद को 20 सितंबर को गिरफ्तार कर लिया गया था। तब से चिन्मयानंद जेल में हैं। उनकी जमानत पर फैसला कोर्ट में सुरक्षित है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना