प्रयागराज / यूपीपीएससी की पूर्व परीक्षा नियंत्रक अंजूलता कटियार को हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत, जमानत याचिका नामंजूर



इलाहाबाद हाईकोर्ट। इलाहाबाद हाईकोर्ट।
X
इलाहाबाद हाईकोर्ट।इलाहाबाद हाईकोर्ट।

  • पेपर लीक मामले में 30 मई को हुई थी गिरफ्तारी
  • वर्तमान में वाराणसी जेल में हैं बंद

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 06:47 PM IST

प्रयागराज. यूपीपीएससी की परीक्षा नियंत्रक रहीं अंजूलता कटियार को इलाहाबाद हाईकोर्ट से एक बार फिर राहत नहीं मिली है। उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस अजीत सिंह की बेंच ने शुक्रवार को अर्जी खारिज कर दी। साथ ही 13 दिन के लिए सुनवाई भी टाल दी गई। एलटी ग्रेड परीक्षा 2018 के दो विषयों के पेपर लीक होने के मामले में एसटीएफ ने 30 मई को कटियार को गिरफ्तार किया था।

 

अंजूलता कटियार इन दिनों में वाराणसी जेल में निरुद्ध हैं। इससे पहले उनकी जमानत याचिका पर 29 जून को सुनवाई हुई थी। तब कोर्ट ने यूपी सरकार द्वारा कोई जवाब न दाखिल करने पर नाराजगी जताई थी। कोर्ट ने कहा था कि, यह एक गंभीर मामला है और इसमें कतई लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

 

छह जून को वाराणसी कोर्ट ने खारिज की थी अर्जी
अंजूलता कटियार कुछ दिनों पहले तक यूपी लोकसेवा आयोग की परीक्षा नियंत्रक थीं। उन पर आरोप था कि उन्होंने पैसे लेकर एलटी ग्रेड परीक्षा का पेपर लीक कर दिया था। एसटीएफ और वाराणसी पुलिस ने जांच के बाद महीने भर पहले उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वाराणसी कोर्ट ने 6 जून को उनकी जमानत अर्जी खारिज कर दी थी, जिसे हाईकोर्ट में चुनौती दी गई। गिरफ्तार होने के बाद अंजूलता को सस्पेंड कर दिया गया और उनकी जगह दूसरे अफसर की नियुक्ति कर दी गई।

COMMENT