प्रयागराज / निरंजनी अखाड़े के महंत आनंद गिरि सिडनी कोर्ट से बरी, यौन उत्पीड़न की बात मनगढ़ंत निकली



महंत आनंद गिरि। महंत आनंद गिरि।
X
महंत आनंद गिरि।महंत आनंद गिरि।

  • सात माह पहले सिडनी में एक युवती ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप
  • सिडनी पुलिस ने संत आनंद गिरि को किया था गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 05:38 PM IST

प्रयागराज. महिला के साथ मारपीट व यौन उत्पीड़न के मामले में निरंजनी अखाड़े के संत व संगम तट पर स्थित लेटे हनुमान मंदिर के महंत स्वामी आनंद गिरि को सिडनी कोर्ट आस्ट्रेलिया ने बरी कर दिया है। कोर्ट ने स्वामी आनन्द गिरी पर लगे सभी आरोपों को निराधार एवं मन गढन्त पाया है। पांच मई को सिडनी पुलिस ने आनंद गिरि को गिरफ्तार कर लिया था। सिडनी पुलिस ने अपनी गलती मानते हुए कोर्ट को बताया स्वामी आनन्द गिरि के खिलाफ निराधार एवं असत्य है।


7 महीने पहले लगे थे आरोप 
युवा योग गुरु स्वामी आनंद गिरी बीते 7 महीनों से ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में एक महिला द्वारा लगाए गए शारीरिक उत्पीड़न समेत अन्य धाराओं के मुकदमें का सामना कर रहे थे। सिडनी कोर्ट ने उनका वीजा एवं पासपोर्ट जब्त कर लिया था, तब से वह ऑस्ट्रेलिया में ही हैं। फैसला आने के बाद कोर्ट ने उन्हें उनका वीजा एवं पासपोर्ट जारी करने का निर्देश दिया है। 

 

सोशल मीडिया पर बरी होने की पोस्ट की
इस संबंध में स्वामी आनंद गिरि ने सोशल मीडिया पर खुद को बरी किए जाने से संबंधित खबर पोस्ट की है और न्यायपालिका को धन्यवाद दिया है। सिडनी कोर्ट ने स्वामी आनन्द गिरि का पासपोर्ट तत्काल रिलीज करते हुए भारत जाने की अनुमति प्रदान की।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना