Hindi News »Uttar Pradesh »Badaun» Man Carries Dead Body Of Wife On His Shoulder In Badaun

UP: सरकारी अस्पताल से नहीं मिला शव वाहन, गरीब पति कंधे पर ले गया पत्नी की लाश

संवेदनहीनता की एक और तस्वीर बदायूं में सामने आई है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 08, 2018, 02:34 PM IST

    • 7 मई को थाना मूसाझाग के रहने वाले सादिक ने अपनी बीमार पत्नी मुनीशा को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया था।

      बदायूं.संवेदनहीनता की एक और तस्वीर बदायूं में सामने आई है। जहां सरकारी अस्पताल में पत्नी की मौत होने पर गरीब पति को शव वाहन नहीं मुहैया कराया गया। जिसके बाद पति पत्नी के शव को कंधे पर ले जाने के लिए मजबूर हो गया। हालांकि जब मीडिया के द्वारा अधिकारीयों के संज्ञान में मामला आया तो जांच बिठा दी गयी है।

      क्या है मामला ?

      7 मई को थाना मूसाझाग के रहने वाले सादिक ने अपनी बीमार पत्नी मुनीशा को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया था। दोपहर में इलाज के दौरान ही उसकी मृत्यु हो गयी। सादिक के साथ उसकी मां और छोटा बच्चा था। कुछ लोगों की मदद से उसने जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के नाम शव वाहन के लिए प्रार्थना पत्र लिखा लेकिन उसे वाहन नहीं उपलब्ध कराया गया। बताया गया कि अभी वाहन उपलब्ध नहीं है।
      -जबकि सादिक का कहना है कि उस समय जिला अस्पताल में वाहन मौजूद थे। बहरहाल, सादिक के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह प्राइवेट शव वाहन कर सके तो उसने कंधे पर ही पत्नी का शव रखा और अस्पताल से चल दिया।
      -शव लेकर वह ऑटो स्टैंड के पास पहुंचा था तो कुछ लोगों ने उसकी मदद की और चंदा इकठ्ठा कर उसे एक ऑटो बुक कराया। तब सादिक अपनी पत्नी का शव घर ले गया।

      क्या कहना है अधिकारीयों का ?

      -यह पूरा मामला मीडिया ने अपने कैमरे में कैद कर लिया था। जब मीडिया जिले के सीएमओ नेमी चंद्र के पास पहुंचा तो उन्होंने कहा मीडिया के द्वारा मामला संज्ञान में आया है। इस मामले में जिसने भी लापरवाही बरती है उसके खिलाफ जांच कर कार्यवाई की जाएगी।

    • UP: सरकारी अस्पताल से नहीं मिला शव वाहन, गरीब पति कंधे पर ले गया पत्नी की लाश
      +2और स्लाइड देखें
      कुछ लोगों ने उसकी मदद की और चंदा इकठ्ठा कर उसे एक ऑटो बुक कराया।
    • UP: सरकारी अस्पताल से नहीं मिला शव वाहन, गरीब पति कंधे पर ले गया पत्नी की लाश
      +2और स्लाइड देखें
      सादिक के पास इतने पैसे नहीं थे कि वह प्राइवेट शव वाहन कर सके तो उसने कंधे पर ही पत्नी का शव रखा और अस्पताल से चल दिया।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Badaun

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×