--Advertisement--

यूपी के मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बेटे पर हुआ हमला; एसपी ने कहा-हमला नहीं हुआ, हाथापाई हुई

मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविन्द राजभर का आरोप है कि उन पर बलिया में हमला हुआ है. चार बाइक सवारों ने हमला किया।

Dainik Bhaskar

Apr 03, 2018, 07:34 PM IST
अरविन्द ने बताया कि इससे पहले भी उनके ऊपर 4 बार हमला हो चुका है। अरविन्द ने बताया कि इससे पहले भी उनके ऊपर 4 बार हमला हो चुका है।

बलिया. यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविन्द राजभर का आरोप है कि उन पर बलिया में हमला हुआ है। चार बाइक सवारों ने हमला किया और मौके से फरार हो गए हैं। वहीँ इस पूरे मामले को जिले की एसपी ने सिरे से नकार दिया है। उनका कहना है कि हमला नहीं हुआ है बल्कि गाड़ियां खड़ी करने के विवाद में हाथापाई हुई है।

4 हमलावरों ने किया गाड़ी घेर कर हमला

-सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविन्द राजभर का कहना है कि हमला रसड़ा के पश्चिमी रेलवे गेट इलाके में हुआ है। जब वह मऊ से किसी कार्यक्रम से लौट रहे थे।
-उन्होंने बताया कि उनकी गाड़ी के आगे भी एक गाड़ी चलती है। अचानक से दो बाइक पर सवार चार हमलावर आये और उन्होंने बोनट पर हाथ मारना शुरू कर दिया। साथ चल रहे लोगों ने टोका तो मेरी गाडी के पास आकर शीशे पर जोर जोर से हाथ मारना शुरू कर दिया। जब हमारे साथी नीचे उतरे। इस दौरान उन लोगों ने गाली गलौज भी किया। मेरे साथियों के साथ उनकी हाथापाई भी हुई।
-मैंने तत्काल थाना प्रभारी को फोन किया। वह किसी सरकारी काम से बाहर गए थे। उन्होंने अपनी टीम जांच में लगाई है।

4 बार हो चूका है हमला

-अरविन्द ने बताया कि इससे पहले भी उनके ऊपर 4 बार हमला हो चुका है। 2 साल पहले बलिया जिले में ही उनके ऊपर हमला हुआ था।
-फिर जब वह 2017 का चुनाव बांसडीह से लड़ रहे थे तब भी 2 से 3 बार हमला हुआ। तब मुझे सरकारी गनर भी मिले थे।
-अरविन्द ने कहा मैं अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराऊंगा।

एसपी ने कहा-हमला नहीं हाथापाई हुई है

-एसपी बलिया श्रीपर्णा गांगुली का कहना है कि अरविन्द राजभर पर हमला नहीं हुआ है बल्कि रेलवे क्रासिंग पर उनकी गाड़ियां खड़ी हुई थी।
-उन्होंने बताया कि जैसा पता चला है कि दो लड़के मोटरसाइकिल से आये हैं और उनकी गाडी के सामने अपनी मोटरसाइकिल खड़ी की है। जिसमे से एक मोटरसाइकिल उनकी गाड़ी से टच हो गयी है। उसी को लेकर वाद-विवाद हुआ है। साथ ही उसी में गाली-गलौज हुई है। अरविन्द राजभर पर कोई ऐसा हमला नहीं हुआ है। गाली-गलौज के बाद लड़के वहां से भाग गए हैं।
-उन्होंने बताया कि अरविन्द राजभर ने अभी कोई मुकदमा नहीं दर्ज करवाया है। अगर मुकदमा दर्ज होता है तो तथाकथित हमलावरों को पकड़ा जायेगा।

कौन हैं अरविंद राजभर

-अरविंद राजभर अपने पिता की तरह ही पॉलिटिक्स में हैं। अरविंद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुख्य महासचिव है। 2017 चुनावों में पार्टी ने बीजेपी के साथ गठबंधन किया था। पार्टी ने 4 सीटें जीती थी।

कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने मामले की जानकारी पुलिस अफसरों से मांगी है। कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने मामले की जानकारी पुलिस अफसरों से मांगी है।
X
अरविन्द ने बताया कि इससे पहले भी उनके ऊपर 4 बार हमला हो चुका है।अरविन्द ने बताया कि इससे पहले भी उनके ऊपर 4 बार हमला हो चुका है।
कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने मामले की जानकारी पुलिस अफसरों से मांगी है।कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने मामले की जानकारी पुलिस अफसरों से मांगी है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..