--Advertisement--

मर्डर: रात 1 बजे तक घर नहीं पहुंची महिला डॉक्टर, ढूंढ़ते हुए क्लीनिक पहुंचा पति, बेंच पर खून से सना चद्दर देख हुआ शक, हटाते ही जमीन पर गिरा वो

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में लेडी डॉक्टर का मर्डर।

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 11:39 AM IST

गाजियाबाद, यूपी। इंदिरापुरम में गुरुवार रात को एक महिला डॉक्टर की क्लीनिक में ही चाकू मार हत्या कर दी गई। घटना के बाद मरीजों के लेटने वाले बेंच पर ही महिला डॉक्टर का शव मिला। इस मामले में पुलिस कई एंगल पर जांच कर रही है। परिजनों ने 16 साल की एक किशोरी का गर्भपात नहीं करने पर उनकी हत्या की आशंका जताई है। इनका आरोप है कि किशोरी और उसका दोस्त कई दिनों से महिला डॉक्टर पर गर्भपात करने का दबाव बना रहे थे। हो सकता है कि गुरुवार रात को उन्होंने ने ही उनकी हत्या कर दी हो। इसके अलावा, गुरुवार देर रात परिजनों के बजाय पड़ोसियों ने घटना की सूचना पुलिस को दी थी। लिहाजा, पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जांच कर रही है।

मृत महिला डॉक्टर सरला नाथ (42) मूलरूप से असम की रहने वाली थीं। वह खुद को बीएएमएस बताती थीं और इंदिरापुरम के न्यायखंड-2 स्थित मकनपुर में फैमिली हेल्थ केयर नाम से क्लीनिक चलाती थीं। इनका परिवार न्याय खंड-2 में ही रहता है। परिवार में महिला के पति संजू नाथ और तीन बेटियां पल्लवी, पायल व प्राची हैं। संजू नाथ एक रेस्तरां में कार्यरत हैं। पुलिस का कहना है कि घटना की जांच के दौरान परिवार से सरला नाथ की बीएएमएस की डिग्री मांगी गई थी लेकिन वो दिखा नहीं पाए।

आरोपी अंगूठी ले गए, पर्स व मोबाइल छोड़ दिया

सरला की बेटी पल्लवी ने पुलिस को बताया कि उनकी मां की सोने की एक अंगूठी गायब है हालांकि उनका पर्स व फोन क्लीनिक में ही मिल गया। पुलिस सभी सामान को कब्जे में लेकर उस पर से फिंगरप्रिंट की जांच कर रही है।

12 बजे तक नहीं आईं तब पहुंचे क्लीनिक

परिजनों ने पुलिस को बताया कि रोजाना सरला क्लीनिक से रात में 8 से 9 बजे के बीच तक घर लौट आती थीं। गुरुवार रात में 12 बजे तक घर नहीं पहुंचीं तो पहले बेटियों ने फोन किया तो फोन रिसीव नहीं हुआ। इसके बाद उनके पति संजू नाथ रात करीब 1 बजे क्लीनिक पर पहुंचे तो देखा कि क्लीनिक खुला है। अंदर घुसे तो देखा कि बेंच पर सरला का शव खून से लथपथ बॉडी देखकर वो गिर पड़े। ऊपर से चादर डली हुई थी। गले और पेट में चाकू से मारने के 2 जगह गहरे निशान मिले। इसे देख परिवार के लोगों ने बिना पुलिस को सूचना दिए तुरंत एक अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस बुलाई। इसका पता चलने पर आसपास के लोगों ने पुलिस को भी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

रजिस्टर में मिली गर्भपात को आने वाली किशोरी की डिटेल

परिजनों ने जिस किशोरी पर गर्भपात कराने के लिए दबाव बनाने और फिर दोस्त के साथ हत्या करने का शक जताया है, पुलिस उस एंगल से भी जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि क्लीनिक पर रखे रजिस्टर में किशोरी का नाम, मोबाइल नंबर और पता लिखा मिला है। यह भी पता चला कि अविवाहित किशोरी अपने एक दोस्त के साथ पिछले कुछ दिनों से क्लीनिक पर आ रही थी। दोनों महिला डॉक्टर पर गर्भपात करने के लिए दबाव बना रहे थे। पुलिस का कहना है कि किशोरी के बारे में पता लगाया जा रहा है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended