Hindi News »Uttar Pradesh »Gorakhpur» Egg Selling Change Life Of A Man In Gorakhpur

अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर

सुरेश चंद्र गुप्ता (75) की यह दुकान हाफ ब्वायल अंडे के लिए काफी प्रसिद्ध है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 21, 2017, 12:22 PM IST

  • अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर
    +4और स्लाइड देखें
    1975 से सुरेश अंडे की दुकान चलाते हैं।

    गोरखपुर. यहां के अलीनगर चौराहे पर एक छोटी सी अंडे की दुकान पर लगने वाली भीड़ को देख लोग चौक जाते हैं। दरअसल, सुरेश चंद्र गुप्ता (75) की यह दुकान हाफ ब्वायल के लिए काफी प्रसिद्ध है। इनके हाफ ब्वायल खाने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं और घंटों इंतजार करने के बाद सेवन करते हैं। सुरेश चंद्र इस व्यवसाय की बदौलत आज अपने 2 बेटों को इंजीनियर बना चुके हैं, जो देश के नामी-गिरामी कंपनी में कार्यरत हैं। DainikBhaskar.com से बातचीत के दौरान सुरेश ने अपनी लाइफ से जूड़ी कुछ बातें बताई।

    12 महीने फेमस रहते है हाफ ब्वायल
    - सुरेश चंद्र गुप्ता गोरखपुर के अलीनगर के रहने वाले है। सुरेश के 2 बेटे है जो बैंगलोर के नामी कंपनियों में इंजीनियर है।
    - सुरेश ने बताया कि उनकी दुकान 1955 में खुली थी। उस समय पिता जी बैठते थे और 1975 से वह बैठने लगे थे। भारत में इमरजेंसी खत्म होने के बाद उन्होंने अंडे की दुकान खोली और तबसे अंडे बेचते हैं।
    - इनकी दुकान पर बस फुल ब्वायल और हाफ ब्वायल अंडा मिलता है। जिसमें हाफ ब्वायल ज्यादा फेमस है और उसके लिए ज्यादा भीड़ लगती है। वह बस 4-5 घंटे ही दुकान खोलते हैं।


    अंडा बेचकर बनाया आलिशान मकान
    - अंडे की दुकान की बदौलत सुरेश ने आज अपना आलिशान 3 मंजिला मकान भी बनवा लिया है।
    - सुरेश ज्यादातर समय अपनी पत्नी को देते हैं क्योंकि वह बचपन से विकलांग हैं।
    - उन्होंने बताया कि वह सबसे पहले सुबह उठकर मंदिर जाते है। वहां गरीबों को दान्य पुण्य करते हैं, फिर घर आकर बीवी के साथ मिलकर घर के कामो में हाथ बटांते हैं।
    - किसी कारण अगर दुकान बंद रहती है तो ग्राहक घर पर भी आ जाते है और उनका कुशल छेम जानने के बाद दूकान खोलने का आग्रह करते हैं।


    जैसा अंडा चाहो वैसा मिलता है
    - वहीं, एक ग्राहक ने बताया की वो बचपन से ही सुरेश भाई के अंडे खा रहे है। जो स्वाद सालों पहले था आज भी वही स्वाद है। आज भी इनकी दूकान में कुछ नहीं बदला है।
    - एक छोटे से भगौने में एक से डेढ़ दर्जन अंडे डाल देते है। फिर गरमागरम अंडा छीलकर उसमें जीरा, गोलमिर्च और काले नमक को डाल देते हैं। जिससे अंडे का स्वाद ही बदल जाता है।

  • अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर
    +4और स्लाइड देखें
    सुरेश ज्यादातर समय अपनी पत्नी के साथ बिताते हैं।
  • अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर
    +4और स्लाइड देखें
    सुरेश के दोनों बेटे बैंगलोर की नामी-गिरामी कंपनी में इंजीनियर हैं।
  • अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर
    +4और स्लाइड देखें
    अंडे की दुकान की बदौलत सुरेश ने आज अपना आलिशान 3 मंजिला मकान भी बनवाया लिया है।
  • अंडे ने बदली इस शख्स की जिंदगी, बेटों के बनाया इंजीनियर
    +4और स्लाइड देखें
    इनकी दुकान पर बस फुल ब्वायल और हाफ ब्वायल अंडा मिलता है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gorakhpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Egg Selling Change Life Of A Man In Gorakhpur
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gorakhpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×