--Advertisement--

महराजगंज: स्टूडेंट संग पैरेंट्स बैठे धरने पर, योगी सरकार से कर रहे ये मांग

जिले के नौतनवा और फरेन्दा में श्रीनगरताल पर अंग्रेजो के जमाने का एक पुल बना था।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 01:13 PM IST
ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठे स्कूल के बच्चे। ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठे स्कूल के बच्चे।

महराजगंज. यूपी के महराजगंज में कुछ स्कूली छात्रों ने अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन पर बैठे हैं। दरअसल, यहां दो विधानसभाओं को जोड़ने वाला एक पुल इस साल आए बाढ़ में बह गया था। जिससे लोगों और बच्चों को स्कूल जान में दिक्कतें हो रही है। वहीं, जिला प्रशासन की लापरवाही की वजह से पुल का अब तक निर्माण नहीं हो सका है। इस वजह से नाराज लोगों स्कूली बच्चों के साथ धरने पर बैठ गए हैं। 20-25 किमों घुम कर जान को मजबूर...

- जिले के नौतनवा और फरेन्दा में श्रीनगरताल पर अंग्रेजो के जमाने का एक पुल बना था। यह पुल दो विधानसभाओं क्षेत्रों को आपस में जोड़ रखा था। लेकिन इस साल आए बाढ़ में यह पुल टूट गया।
- इस वजह से दर्जनों गांवो में आने-जाने का रास्ता बंद हो गया। जिससे बच्चों को स्कूल जाने में और लोगों को व्यापार करने के लिए एक गांव से दुसरे गांव जाने में काफी परेशानियां होती है।
- वहीं, छात्रों ने निर्णय लिया है कि सरकार जब तक पुल का निर्माण नहीं कराएगी, तब तक धरना जारी रहेगा।
- करीब 9 दिनों से कड़ाके की ठंड में छात्र पुल निर्माण की मांग को लेकर आंदोलनरत है। लेकिन जिले के एक भी अधिकारी इन छात्रों की सुधि लेने नही पंहुचा ।
- महिलाओं का कहना है कि डिलेवरी पीरियड में अस्पताल जाने के लिए कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। पुल टूटने की वजह से 20-25 किमों घुम कर जाना पड़ता है। यहां तक कि नई दुल्हन को आने जाने में भी दिक्कत हो रही हैं।

छात्रों ने निर्णय लिया है कि जब तक पुल का निर्माण शुरू नहीं होगा, तब तक धरना जारी रहेगा। छात्रों ने निर्णय लिया है कि जब तक पुल का निर्माण शुरू नहीं होगा, तब तक धरना जारी रहेगा।
नौतनवा और फरेन्दा में श्रीनगरताल पर अंग्रेजो के जमाने का एक पुल बना था। नौतनवा और फरेन्दा में श्रीनगरताल पर अंग्रेजो के जमाने का एक पुल बना था।
पुल टूटने की वजह सें बच्चों स्कूल जान में दिक्कतें हो रही हैं। पुल टूटने की वजह सें बच्चों स्कूल जान में दिक्कतें हो रही हैं।