उप्र / अमित शाह के पुत्र का कौन सा व्यापार? जो अलादीन के चिराग के सामने पड़ा फीका: गौरव वल्लभ



कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रोफेसर गौरव वल्लभ। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रोफेसर गौरव वल्लभ।
X
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रोफेसर गौरव वल्लभ।कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रोफेसर गौरव वल्लभ।

  • कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने शुक्रवार को सीएम योगी के शहर गोरखपुर में की प्रेस कांफ्रेंस 
  • कहा- नोटबंदी देश के लिए काला दिवस और राष्‍ट्रीय शोक का दिन

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 05:41 PM IST

गोरखपुर. कांग्रेस के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता प्रो. गौरव वल्लभ ने नोटबंदी के दिन को काला दिवस और राष्‍ट्रीय शोक का दिन बताया। कहा कि आज देश के लिए लिए अच्छा दिन नहीं है। आज ही के दिन 3 साल पहले नोटबन्दी जैसा काला फैसला लिया गया था। 8 नवंबर 2016 का दिन आपको याद होगा, जब अचानक से 500 और हजार के नोट को बंद कर दिया जाता है। उसका खामियाजा आज तक देश भुगत रहा है। पता नहीं कितने दिन और लगेंगे? उन्होंने सवाल किया कि, अमित शाह के पुत्र के पास कौन सा व्‍यापार है कि अलादीन का चिराग भी उनके सामने फीका पड़ गया? मंदी के बावजूद 15 हजार गुना बढ़ जाता है।

योगी सरकार में निर्देष पर चलती है गोली, पुलिस कर्मी ठांय ठांय निकालते हैं आवाज

  1. प्रवक्ता ने कहा कि, काला धन वापस लाने की बात कही गई। कालाधन पर बात नहीं बनी, तो कैशलेस की बात की गई। वहां भी बात नहीं बनीं, तो नकली नोटों में कमी आने की बात की गई। उसके बाद आतंकवाद और नक्‍सलवाद को जड़ से खत्‍म हो करने की बात कही। एक भी बात नहीं बनी। पीएम ने कहा कि 50 दिन दे दीजिए। 3 साल दे दिए। 150 लोगों ने नोटबंदी की लाइन में अपनी लाइन में जान गंवा दी। आजाद हिन्‍दुस्‍तान की सबसे बड़ी बेरोजगारी हम झेल रहे हैं। सीएमआईई का आंकड़ा हर माह खुद को हराता है।  

     

  2. कहा कि, हमें बोला जाता है कि मंदी इसलिए है क्‍योंकि वैश्‍विक मंदी है। 2008 में जो मंदी आई वो मंदी सदी में आज तक नहीं आई। भारत ने उस मंदी को छुआ तक नहीं। क्‍योंकि उस समय जो लोग भारत की सेवा में थे, वो विदेश में हाउ डू यू डू करने नहीं जाते थे। वो पूछने जाते थे कि हाउ कैन आई डू। मुद्दों पर आप चुप हो जाते हो। कहा कि, किसान 22.5 प्रतिशत एमएसपी के कम पर फसल बेच रहा है। ये कौन सा न्‍यू इंडिया है। भाजपा कृषि उपकरण पर कर लगाने वाली पहली सरकार बन गई है। 

  3. गौरव वल्लभ ने महाराष्‍ट्र में मचे सियासी घमासान पर पलटवार किया। कहा कि, जिस तरह का वो वातावरण बना रहे हैं वो, लोग उन पर हंस रहे हैं। पहले बड़े भाई बने थे। फिर बड़े-छोटे भाई बन गए। फिर छोटा भाई बड़ा बन गया। कर्नाटक में भी यही किया। गोवा में भी यही किया। जनता एक विवेकशील जनता है। कांग्रेस को जो मैंडेट मिला है, उसे हम स्‍वीकार कर रहे हैं। 
     

  4. उर्जा मंत्री द्वारा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को भेजे गए मानहानि के नोटिस पर कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि, कर दो आप मानहानि। लेकिन, लोगों के पीएफ के पैसे इस तरह निवेश मत करो। सपा सरकार में 22 करोड़ रुपए का निवेश हुआ था। 4000 करोड़ से ज्‍यादा का निवेश भाजपा समय में हुआ है। कांग्रेस जानना चाहती हैं कि जनता के पैसे का क्‍या प्रबंध हुआ। कौन दोषी है। ऊर्जा मंत्री को क्‍या हटाया गया। योगी जी नैतिक जिम्‍मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्‍तीफा देते। 

     

  5. कहा कि, यूपी में ऐसी सरकार है, जो सही और निर्दोष आदमी हैं, उसके सामने गोली चल जाती है। जो माफिया को मारने के लिए मुंह से ठांय-ठांय की आवाज निकालनी पड़ती है। लोग उत्‍तर प्रदेश पुलिस का मजाक उड़ाते हैं। यहां के जनप्रतिनिधि मच्‍छर और माफिया से निदान दिलाने की बात करते थे। जाकर अस्‍पतालों का हाल देख लीजिए असलियत पता चल जाएगी। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना