पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Lok Sabha Elections 2019 Arthi Baba To Contest Against Sp Chief Akhilesh Yadav

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव व निरहुआ के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे अर्थी बाबा, योगी के खिलाफ ठोंकी थी ताल

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अर्थी बाबा ने कहा- भाजपा व कांग्रेस ने देशहित में कोई काम नहीं किया
  • राष्ट्रपति, विधान सभा व लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं अर्थी बाबा

गोरखपुर. मौसम का तापमान बढ़ने के साथ ही यूपी में सियासी पारा तेजी से चढ़ने लगा है। भोजपुरी स्टार व भाजपा नेता दिनेश लाल यादव निरहुआ के बाद अब एक ऐसा शख्स सामने आया है, जिसने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ से चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। उम्मीदवार का नाम है, अर्थी बाबा। ये अपना चुनाव कार्यालय आजमगढ़ में श्मशान घाट में खोलेंगे। इनका कहना है कि, सपा-भाजपा के कार्यकाल में जनता के हित में कोई काम नहीं हुआ है। 

 

अर्थी पर प्रचार के लिए निकलते हैं बाबा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर के रहने वाले राजन यादव चुनाव प्रचार के लिए अर्थी पर बैठकर निकलते हैं। वह अर्थी पर बैठे रहते हैं और चार लोग अर्थी को कंधे पर लेकर घुमते हैं। इसीलिए लोग उन्हें अर्थी बाबा कहते हैं। 

 

2009 में योगी के खिलाफ लड़ा था चुनाव
अर्थी बाबा इससे पहले राष्ट्रपति, विधानसभा और लोकसभा का भी चुनाव लड़ चुके हैं। 2009 के लोकसभा चुनाव में उन्‍होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ा था। 2017 के विधानसभा चुनाव में चौरीचौरा विधानसभा क्षेत्र से अभिनेता राजपाल यादव की सर्व समभाव पार्टी ने अर्थी बाबा को टिकट दिया था। 

 

चिताओं की पूजा करते हैं अर्थी बाबा
अर्थी बाबा ने कहा कि वे 2019 लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव के खिलाफ आजमगढ़ सीट से चुनाव लड़ेंगे। अर्थी बाबा चिताओं की पूजा करते हैं और उन पर रखे गए शवों से अपनी जीत के लिए उनकी आत्माओं को जगाने का काम कर रहे हैं, ताकि वे उनकी मदद करें और 2019 का चुनाव जीत सकें। अर्थी बाबा ने बताया कि आजमगढ़ सीट से पर्चा दाखिल करने से पहले वह अघोरी बाबाओं से मिलेंगे और उनसे जीत का आशीर्वाद मांगेंगे। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

और पढ़ें