बहराइच  / प्लॉस्टिक स्कीन वाले बच्चे को देख चकराया परिवार, डॉक्टरों ने कहा- क्लोडियन बेबी है



mysterious baby born in bahraech, doctors named clodian baby
X
mysterious baby born in bahraech, doctors named clodian baby

  • चिकित्कसों के मुताबिक दुर्लभ किस्म के बच्चे काफी कम पाए जाते हैं
  • लोगों के आकर्षण का केंद्र बना कलोडियन बेबी
  • बच्चे को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 03:50 PM IST

बहराइच. जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक बच्चे के जम्म के बाद उसके परिजन ही नहीं बल्कि अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक भी आश्चर्यचिकित हैं। नार्मल डिलीवरी से पैदा हुए बच्चे के शरीर पर चमड़े की स्किन के जगह प्लास्टिक की स्किन साफ साफ देखी जा सकती है। बच्चे को डाक्टरों की विशेष देखरेख में रखा गया है। काफी जांच के बाद एक्सपर्ट डॉक्टर्स इसे क्लोडियन बेबी बता रहे हैं।

 

डाॅक्टरों का मानना है कि ऐसे दुर्लभ किस्म के बच्चे लाखों में कहीं एक पाए जाते हैं। फिलहाल नवजात बच्चे को बहराइच के जिला अस्पताल में बच्चे को लाइफ सपोर्ट सिस्टम में रखा गया है। 

 

जिले के मोतीपुर इलाके की माजिदा को प्रसव पीड़ा होने के बाद बुधवार को उन्हें स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया गया। जहां उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया। बच्चे की शक्ल सूरत को देख परिजन ही नही डॉक्टर्स भी डर गए। लेकिन काफी देर तक जांच परख के बाद बच्चे के परिजन बच्चे को लेकर बहराइच पहुंचे और जिला अस्पताल में भर्ती करवाया। जिला अस्पताल के चाइल्ड स्पेशलिस्ट डाक्टर के के वर्मा भी बच्चे की स्थिति को देखकर हतप्रभ रह गए। 

 

जांच के बाद डॉक्टरों ने बताया क्लोडियन बेबी
डॉक्टरों ने काफी जांच के बाद इस नवजात का नाम क्लोडियन बेबी रखा। कलोडीयन बेबी का इलाज कर रहे डाक्टर के के वर्मा ने बताया कि इस तरह के बच्चे बहुत संवेदनशील शील होते हैं। संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है इनके भीतर बीमारियों से लड़ने की क्षमता बहुत कम होती है। इसी वजह से ऐसे बच्चे को आम बच्चों से दूर और बेहद निगरानीपूर्ण रखा जाता है ताकि इन्हें बचाया जा सके। 

 

इस तरह के बच्चों का इम्युनल सिस्टम बहुत कमजोर होता है । जिला अस्पताल के लाइफ सपोर्ट सिस्टम में रखा ये क्लोडीयन बेबी डाक्टरों के लिए एक चैलेंज भी बना हुआ है। चूंकि इस तरह के बच्चे को बचाना पाना काफी मुश्किल का काम होता है लेकिन फिर भी बहराइच के डॉक्टर्स इस बच्चे को बचाने की सभी जुगत में लगे हुए हैं।

COMMENT