गोरखपुर / फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने का खुलासा, पुलिस ने एक युवक को किया गिरफ्तार



police areest one person from gorakhpur for fake arms licence
X
police areest one person from gorakhpur for fake arms licence

  • मास्टर माइंड की तलाश करने में जुटी है पुलिस
  • एसएसपी ने कहा कि शहर के सभी लाइसेंस की जांच की जा रही है

Dainik Bhaskar

Aug 21, 2019, 07:08 PM IST

गोरखपुर.  जिले में फर्जी तरीके से शस्‍त्र लाइसेंस बनाने और नकली असलहा बेचने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। शिकायत के बाद संदेह के आधार पुलिस ने एक दुकान को सीज कर दिया है। वहीं फर्जी लाइसेंस के आधार पर नकली असलहा रखने के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस दुकान पर काम करने वाले मास्‍टरमाइंड गोपी की भी तलाश कर रही है।

 

गोरखपुर के जिलाधिकारी के. विजयेन्‍द्र पाण्डियन ने बताया कि शिकायत और स्‍कैनिंग के दौरान ये मामला प्रकाश में आया। प्रशासनिक और पुलिस के आलाधिकारियों ने शहर की सभी दुकानों के रजिस्‍टर को चेक किया। इसमें कोतवाली इलाके के टाउनहाल पर स्थित रवि गन हाउस संदेह के घेरे में आ गया। उनके निर्देश पर पुलिस ने इसके पहले ही जालसाज गोरखनाथ इलाके के युवक तनवीर खान को गिरफ्तार कर लिया।

 

डीएम की मानें तो पुलिस को उसके पास से फर्जी लाइसेंस पर खरीदा गया नकली यानी अवैध पिस्‍टल भी मिला है, जिसे जब्त कर लिया गया है। पूछताछ के बाद पुलिस ने जालसाजी और आर्म्‍स एक्‍ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

 

पुलिस को है कई लोगों की तलाश
पुलिस को फर्जी लाइसेंस पर नकली असलहा रखने वाले राप्‍तीनगर के रहने वाले विकास तिवारी, शिवम मिश्र, फर्जी लाइसेंस बनाने वाले दलाल गोपी और रवि गन हाउस के प्रोपराइटर की तलाश है। गोपी ने अपने घर ही फर्जी लाइसेंस बनाने का सारा सामान रखा हुआ था। लाइसेंस की किताब, मजिस्ट्रेट की मुहर, कई रंग के पेन, और खूब सारी फाइलें बरामद हुई हैं।

 

गोरखपुर के एसएसपी डा. सुनील कुमार गुप्‍ता ने बताया कि फर्जी लाइसेंस पर नकली असलहा बिक्री का मामला सामने आया था। एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है। दुकान के प्रोपराइटर और अन्‍य लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। इसके साथ ही शहर के सभी असलहा और लाइसेंस की जांच की जा रही है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना