भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने पार्टी विधायक राकेश सिंह को जूतों से पीटा, वीडियो वायरल

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला कार्ययोजना समिति की बैठक में अफसरों के सामने भिड़े सांसद-विधायक
  • शिलापट पर नाम न होने से नाराज थे सांसद शरद त्रिपाठी

संतकबीरनगर. कलेक्ट्रेट में योगी सरकार में मंत्री आशुतोष टंडन की अगुआई में बुधवार को जिला कार्ययोजना समिति की बैठक हुई। इस दौरान शिलापट में नाम ना होने को लेकर भाजपा विधायक राकेश बघेल और भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी में विवाद हो गया। स्थिति ये हो गई कि सांसद त्रिपाठी ने विधायक बघेल को जूते से पीट दिया। इस घटना का वीडियो वायरल हो रहा है।

 

विधायक ने भी जड़े थप्पड़

सांसद ने विधायक को 7 बार जूते से मारा। इसके बाद विधायक बघेल ने उन्हें 2 थप्पड़ मारे। मारपीट के चलते मीटिंग में भगदड़ जैसी स्थिति बन गई। बाद में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने दोनों को अलग कराया।

 

शिलापट पर नहीं लिखा था सांसद का नाम

बैठक में समिति के सदस्य प्रस्ताव पेश कर रहे थे। एक परियोजना के शिलापट पर सांसद शरद त्रिपाठी का नाम नहीं लिखा था। यह देखते ही सांसद भड़क उठे। प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन ने सांसद और विधायक के बीच-बचाव कराने की कोशिश की, लेकिन तब तक सांसद ने जूता निकालकर विधायक को पीटना शुरू कर दिया था। स्थानीय लोग बताते हैं कि सांसद और विधायक के बीच काफी समय से मनमुटाव चल रहा है।

 

घटना पर अखिलेश का तंज- जूतों का सादर आदान-प्रदान हुआ
अखिलेश यादव ने इस घटना पर ट्वीट किया- उप्र में विश्व की सबसे अनुशासित राजनीतिक पार्टी का दावा करने वाली भाजपा के सांसद और विधायकजी के मध्य जूतों का सादर आदान-प्रदान हुआ। यह आगामी चुनावों में अपनी हार से आशंकित भाजपा की हताशा है। सच तो ये है कि लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए भाजपा को प्रत्याशी ही नहीं मिल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...