--Advertisement--

VIRAL है पकौड़े तलने की ये STYLE, खौलते तेल में डाला जाता है हाथ

पकौड़े पर पॉलिटिक्स से अलग पॉपुलर हो रहा है झांसी का ये पकौड़े बेचने वाला।

Danik Bhaskar | Feb 06, 2018, 05:41 PM IST

झांसी. बजट सेशन के दौरान पॉलिटीशियन्स के पकौड़े को लेकर कमेंट्स सबसे ज्यादा वायरल रहे। पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर पी. चिदंबरम ने जहां पकौड़े बेचने वालों की तुलना भिखारियों से की, वहीं BJP चीफ अमित शाह ने पकौड़े बेचने को रिस्पेक्टेबल जॉब बताया। झांसी का यह शख्स अपने पकौड़े तलने की स्टाइल को लेकर पॉपुलर है। पकौड़े पर पॉलिटिक्स के बीच DainikBhaskar.com इस खतरों के खिलाड़ी के बारे में बता रहा है।

कितना भी गर्म हो तेल, नहीं जलते हाथ

खौलते तेल में हाथ डालकर भजिया निकालने के लिए फेमस है। खास बात ये है कि चाहे जितना भी गर्म तेल हो शख्स का हाथ बिल्कुल नहीं जलता। जबकि डॉक्टर्स का कहना है कि ऐसा करना नामुनकिन है। DainikBhaskar.com ने शख्स से बात करके यह जानने की कोश‍िश की आख‍िर कैसे वो यह कर लेता है।

पत्नी भाग गई दूसरे के साथ, इसी गम में करने लगा ये कारनामा


- मूल रूप से लल‍ितपुर जिले के रहने वाले सोहन कंचन (45) महज 13 साल की उम्र से चाय और भजिया की दुकान लगा रहे हैं। पिछले कई साल से झांसी के शहर कोतवाली एरिया में अपने भाई-भाभी के साथ रहते हैं। सीपरी थाना क्षेत्र में उनकी चाय और भजिया की दुकान है।
- सोहन बताते हैं, ''18 साल की उम्र में मेरी शादी हो गई थी। हम एक-दूसरे से बहुत प्यार करते थे। शादी के 5 साल बाद एक दिन जब मैं दुकान से घर पहुंचा, तो बीवी घर में नहीं मिली।"
- ''काफी खोजाबीन के बाद पता चला कि वो किसी दूसरे शख्स के साथ भाग गई। पत्नी की इस हरकत से मैं बहुत दुखी हुआ। सोचा सुसाइड कर लूं, लेकिन भइया-भाभी ने मुझे संभाल लिया। उनके समझाने पर मैंने खुद को संभाला और वापस दुकान खोलने लगा।''
- ''एक दिन मैं दुकान पर था, अचानक पत्नी के साथ बिताए दिनों की याद आ रही थी। उसके बारे में सोचते-सोचते मैंने गर्म तेल की कढ़ाई में हाथ डाल दिया। लेकिन मेरा हाथ नहीं जला। ऐसा महसूस हुआ जैसे गुनगुने पानी में हाथ चला गया हो।''
- ''उस दिन के बाद से मैं कढ़‍िये में हाथ डालकर भजिये निकालने लगा, आज तक हाथ नहीं जला।
- CMS हरिश चंद्र आर्या ने बताया, "जब कढ़ाई में भजिए तले जाते हैं, तो कढ़ाई के अंदर तेल का टेम्प्रेचर करीब 100 डिग्री होता है। ऐसे में ये मुमकिन नहीं है कि कोई इतने गर्म तेल में अपना हाथ डाल दे और उसका हाथ न जले।''