--Advertisement--

14 दिन से लापता था बच्चा, बेटे को इस हाल में देख कांप उठा पिता

मृतक जवाहर नवोदय विद्यालय में इंटर का स्टूडेंट था। 14 दिन पहले घर से गायब हो गया था।

Danik Bhaskar | Jan 31, 2018, 03:43 PM IST
14 दिन पहले लापता हुए स्टूडेंट का मिला शव। 14 दिन पहले लापता हुए स्टूडेंट का मिला शव।

जालौन. यूपी के जालौन में मंगलवार को एक 17 वर्षीय स्टूडेंट का शव नाले में मिलने से सनसनी मच गई। बताया जा रहा है कि मृतक जवाहर नवोदय विद्यालय में इंटर का स्टूडेंट था और 14 दिन पहले घर से गायब हो गया था। शव मिलने की सूचना पर स्टूडेंट के परिवार में कोहराम मच गया। वहीं, जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और मामले की जांच में जुट गई। 16 जनवरी को अचानक गायब हुआ था स्टूडेंट...


- जालौन कोतवाली के प्रतापपुरा के प्रधान सूरज प्रसाद का पुत्र रितुराज चौधरी (17) जवाहर नवोदय विद्यालय में क्लास 12th का स्टूडेंट था।
- बाताय जा रहा है कि 16 जनवरी की रात को वह अचानक घर से गायब हो गया था। काफी कोशिश के बाद भी उसका कोई सुराग नहीं लग था।
- पुलिस और परिवार के लोग लगातार उसकी तलाश कर रहे थे। परिजन तांत्रिक और ज्योतिषियों से भी बच्चे की तलाश करवा रहे थे लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल रहा था।


काम कर रहे किसानों की पड़ी नजर
- मंगलवार सुबह कुछ किसान नाले में पानी लगा रहे थे। इस दौरान उनकी नजर नाले में तैर रहे शव पर पड़ी।
- ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस सब-इंस्पेक्टर संजय कुमार शर्मा और जालौन कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा मौके पर पहुंचे। फिर ग्रामीणों की मदद से शव को नाले से बाहर निकाला।
- शव की शिनाख्त रितुराज पुत्र सूरज प्रसाद के रुप में हुई। जिसके बाद पुलिस ने इसकी सूचना मृतक के परिजनों की दी। बेटे की मौत की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया।
- वहीं, पुलिस ने मामले की जांच करते हुए, शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पिता लगा रहा ये आरोप
- स्टूडेंट के पिता सूरज प्रसाद उर्फ पप्पू प्रधान का आरोप है कि उनके बेटे के मौत के दोषी जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रिंसिपल है। उन्होंने बेटे को पिछले साल अगस्त में विद्यालय से निकाल दिया था। जिसके बाद वह दो महीने तक घर पर बैठा रहा था, जिस वजह से वह मानसिक रूप परेशान हो गया था।
- पिता का आरोप है कि जब रितुराज 12 जनवरी को स्कूल गया था, तब प्रिंसिपल एस.के सेजवार ने उसे फटकार के भगा दिया था। जिसके कारण वह 16 जनवरी की रात को घर छोड़कर चला गया था और आज उसका शव मिला है। प्रिंसिपल के उत्पीड़न से परेशान होकर उसके बेटे की मौत हुई है इसलिए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।
- वही, जवाहर नवोदय के प्रिंसिपल एस.के सेजवार का कहना है, "रितुराज को अनुशासनहीनता के कारण विद्यालय से निकाला गया था और उसे बरुआसागर के ब्रांच भेज दिया गया था। उसके पिता द्वारा लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद है।"

क्या कहती है पुलिस
- सीओ संजय कुमार शर्मा ने बताया, "शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा जिससे उसकी मौत कारण पता चल सके। वहीं, छात्र के पिता अगर लिखित शिकायत करेगें तो उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।"

रितुराज चौधरी (17)। (फाइल) रितुराज चौधरी (17)। (फाइल)
मृतक जवाहर नवोदय विद्यालय में इंटर का स्टूडेंट था। मृतक जवाहर नवोदय विद्यालय में इंटर का स्टूडेंट था।
फिरग्रामीणों की मदद से पुलिस ने शव को नाले से बाहर निकाला। फिरग्रामीणों की मदद से पुलिस ने शव को नाले से बाहर निकाला।