Hindi News »Uttar Pradesh »Jhansi» Grooms Family Cancel Marriage For Not Get 5 Lakh Dowry

दुल्हन करती रही दूल्हे का इंतजार, ससुराल से आया ये फरमान

यूपी के बांदा में सोमवार को बारात के दिन ही लड़के पक्ष ने 5 लाख रुपए की डिमांड कर दी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 20, 2018, 01:07 PM IST

  • दुल्हन करती रही दूल्हे का इंतजार, ससुराल से आया ये फरमान
    +3और स्लाइड देखें
    दहेज में 5 लाख रुपए नहीं मिलने पर दुल्हा पक्ष ने तोड़ दी शादी।

    बांदा.यूपी के बांदा में सोमवार को बारात के दिन ही लड़के पक्ष ने 5 लाख रुपए की डिमांड कर दी। डिमांड पूरी न होने पर बारात लाने से इंकार करते हुए शादी तोड़ दी। इससे दुखी लड़की के पिता ने आत्महत्या का प्रयास किया, लेकिन वहां मौजूद मेहमान और परिजनों ने उसे बचा लिया। इस घटना के बाद इलाके हड़कंप मच गया और वहीं घर में मातम सा माहौल छा गया।आगे पढ़िए क्या है पूरा मामला...

    - मामला जिले के कमासिन थाना क्षेत्र का है। यहां नत्थू कुशवाहा की बेटी गीता की सोमवार को बारात आनी थी। लेकिन दहेज के लालच में लड़के पक्ष बारात लाने से मना कर दिया।
    - नत्थू कुशवाहा ने बताया कि मैंने अपनी बेटी गीता की शादी मध्यप्रदेश के सतना में रेलवे में तैनात कर्मचारी हरिश्चंद्र से तय की थी।
    - एक हफ्ते पहले मैंने तिलक में एक लाख नगद और तकरीबन एक लाख रुपए का सामान भी चढ़ाया था। 19 फरवरी बेटी की बीरीत आनी थी। जिसकी सभी तैयारी कर रखी थी।
    - दूरदराज से शादी में शामिल होने रिश्तेदार भी आ गए थे, लेकिन सोमवार सुबह से लड़के पक्ष की तरफ से 5 लाख रुपए की मांग की गई। कई घंटे में भी मैं जब व्यवस्था नहीं कर पाया तो। उन्होंने फोन कर बारात नहीं लाने और शादी तोड़ने का फरमान सुना दिया।
    - बता दें, इससे दुखी लड़की के पिता ने आत्महत्या का प्रयास किया, लेकिन वहां मौजूद मेहमान और परिजनों ने उसे बचा लिया। इस घटना के बाद इलाके हड़कंप मच गया है।
    - फिलहाल, लड़की वाले मामले की शिकायत थाने में दर्ज कराई है।

  • दुल्हन करती रही दूल्हे का इंतजार, ससुराल से आया ये फरमान
    +3और स्लाइड देखें
    बेटी की शादी टूटने की खबर सुन पिता ने किया सुसुाइड का प्रयास।
  • दुल्हन करती रही दूल्हे का इंतजार, ससुराल से आया ये फरमान
    +3और स्लाइड देखें
    19 फरवरी को होनी थी शादी।
  • दुल्हन करती रही दूल्हे का इंतजार, ससुराल से आया ये फरमान
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhansi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×