--Advertisement--

जब इस केस में पकड़ी गई ये लेडी अफसर, यूं छुपाने लगी मुंह

ललितपुर. व‍िज‍िलेंस टीम ने शुक्रवार को छापेमारी कर लेडी मेडिसीन इंस्पेक्टर को घूस लेते रंगेहाथ अरेस्ट कर ल‍िया।

Dainik Bhaskar

Jan 19, 2018, 12:26 AM IST
मेड‍िकल लाइसेंस बनवाने के लि‍ए ले रही थी 20 हजार रुपए र‍िश्वस। मेड‍िकल लाइसेंस बनवाने के लि‍ए ले रही थी 20 हजार रुपए र‍िश्वस।

ललितपुर. व‍िज‍िलेंस टीम ने गुरुवार को छापेमारी कर लेडी मेडिसीन इंस्पेक्टर (औषधी निरीक्षक) को घूस लेते रंगेहाथ अरेस्ट कर ल‍िया। आरोप है क‍ि मेड‍िकल का लाइसेंस बनाने के ल‍िए 20 हजार रुपए र‍िश्वत ले रही थी। पुल‍िस ने आरोपी लेडी अफसर के ख‍िलाफ केस दर्ज कर जेल भेज द‍िया है। आगे पढ़‍िए पूरा मामला...

-बताया जाता है क‍ि यहां के कोतवाली क्षेत्र निवासी नीरज कुमार को मेडि‍कल खोलने के लिए लाइसेंस की जरूरत थी। इसके ल‍िए वह कलेक्ट्रेट स्थित खाद्य सुरक्षा एवं औषधी विभाग में पहुंचे थे।
-यहां पर तैनात औषधी निरीक्षक प्रीति सिंह ने लाइसेंस देने के नाम पर 40 हजार रुपए रिश्वत की मांग की। हालांक‍ि, 20 हजार रुपए में बात तय हो गई।
-इसके बाद रिश्वत मांगे जाने की शिकायत नीरज ने झांसी स्थित विजिलेंस टीम से कर दी। बीते गुरुवार को प्रीति सिंह ने नीरज को पैसे लेकर आने को कहा था। जिसकी जानकारी नीरज ने झांसी व‍िज‍िलेंस टीम के इंस्पेक्टर आरके सिंह को दी। इसके बाद इंस्पेक्टर अपनी टीम सहित ललितपुर पहुंचे और नीरज को केमि‍कल लगे 20 हजार रुपए दिए।
-श‍िकायतकर्ता नीरज सुबह 11 बजे औषधी कार्यालय पहुंचा और प्रीति सिंह को पैसे देने गया, लेकिन उस समय प्रीति‍ ने पैसे लेने से मना कर दिया। लेकिन दोपहर ढाई बजे प्रीति ने फोन कर नीरज को पैसे लेकर आने को कहा।
-इसके बाद नीरज व‍िज‍िलेंस टीम के साथ कार्यालय पहुंचा। टीम के सदस्य बाहर खड़े हो गए। नीरज ने प्रीति सिंह को 20 हजार रुपए दि‍ए। प्रीति सिंह ने रुपए हाथ में लेकर फाइल में रख लिए। इसके बाद व‍िज‍िलेंस टीम की सदस्य रेखा सिंह, महिला थानाध्यक्ष नीतू सिंह और अन्य महिला कॉन्स्टेबल ने उसे पकड़ लिया और कोतवाली ले आए। जबकेमि‍कल से हाथ धुलवाये गए तो हाथों में गुलाबी रंग लग गया।

क्या कहते हैं व‍िज‍िलेंस टीम के अध‍िकारी
-व‍िज‍िलेंस टीम के प्रभारी आरएन सिंह ने बताया, औषधी निरीक्षक प्रीति सिंह पर भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है और जेल भेजा जा रहा है।
-आरोपी प्रीति स‍िंह को पकड़ने वालों में टीम के प्रभारी आरएन सिंह, इंस्पेक्टर आरके सिंह, एसआई श्रीराम निरंजन, कॉन्स्टेबल रेखा वर्मा, महिला थानाध्यक्ष नीतू सिंह, कांस्टेबल बीएस बादल आदि रहे।

वि‍ज‍िलेंस की टीम ने रंगेहाथ अरेस्ट कर लि‍या। वि‍ज‍िलेंस की टीम ने रंगेहाथ अरेस्ट कर लि‍या।
आरोपी लेडी मेड‍िसीन इंस्पेक्टर को जेल भेज द‍िया गया है। आरोपी लेडी मेड‍िसीन इंस्पेक्टर को जेल भेज द‍िया गया है।
40 हजार रुपए की ड‍िमांड की थी। 40 हजार रुपए की ड‍िमांड की थी।
पकड़े जाने पर मुंह छुपाने लगी। पकड़े जाने पर मुंह छुपाने लगी।
X
मेड‍िकल लाइसेंस बनवाने के लि‍ए ले रही थी 20 हजार रुपए र‍िश्वस।मेड‍िकल लाइसेंस बनवाने के लि‍ए ले रही थी 20 हजार रुपए र‍िश्वस।
वि‍ज‍िलेंस की टीम ने रंगेहाथ अरेस्ट कर लि‍या।वि‍ज‍िलेंस की टीम ने रंगेहाथ अरेस्ट कर लि‍या।
आरोपी लेडी मेड‍िसीन इंस्पेक्टर को जेल भेज द‍िया गया है।आरोपी लेडी मेड‍िसीन इंस्पेक्टर को जेल भेज द‍िया गया है।
40 हजार रुपए की ड‍िमांड की थी।40 हजार रुपए की ड‍िमांड की थी।
पकड़े जाने पर मुंह छुपाने लगी।पकड़े जाने पर मुंह छुपाने लगी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..