Hindi News »Uttar Pradesh »Jhansi» Man Funeral Of Unclaimed Dead Bodies

पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा

एक लावारिस शव का अंतिम संस्कार करने में करीब 2000 रुपए का खर्च आता है।

राम नरेश यादव | Last Modified - Dec 16, 2017, 09:50 AM IST

  • पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा
    +4और स्लाइड देखें
    अजीत जैन बोले- मुझे ये सब काम करने की प्रेरणा अपने पिताजी मिली है।

    ललितपुर. यूपी के ललितपुर का रहने वाला एक व्यक्ति अपने साथियों की मदद से लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करता है। अब तक वह करीब 500 शवों को पूरे हिंदू रीति-रिवाज के साथ दाह संस्कार कर चुका है। पत्नी इस बात से अंजान थी। जब उसको ये बात पता चली तो उसे अजीब लगा, लेकिन अब पति का पूरा साथ देती है। 1 शव में आता है 2000 रुपए का खर्च...

    - रेडीमेड कपड़े के शो रूम संचालक नझाई बाजार थाना क्षेत्र के रहने वाले अजीत जैन (अज्जू बाबा) ने बताया, ''मुझे ये सब काम करने की प्रेरणा अपने पिताजी मिली है। वो भी इसी तरह गरीब और निर्धन व्यक्तियों की मदद किया करते थे।''
    - ''एक लावारिस शव का अंतिम संस्कार करने में करीब 2000 रुपए का खर्च आता है। धन की व्यवस्था के लिए बहुत सारे हमारे ऐसे दोस्त हैं जो हमेशा मदद करते रहते हैं।''
    - ''मैं और मेरी टीम में जितने भी मेरे सहयोगी साथी है, वो निस्वार्थ भावना से इस कार्य को करते हैं।''
    - ''मेरा मानना है, जब हमारे परिवार से किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो हम उसका पूरी विधि-विधान से अंतिम संस्कार करते हैं। जो लावारिस शव होता है वह भी किसी न किसी परिवार का सदस्य होता है, लेकिन उसके साथ दुर्भाग्य इस बात का होता है कि उसके परिवार को उसकी मौत की सूचना नहीं मिलती है।''
    - ''ऐसे लावारिस शवों को हम अपने परिवार का सदस्य मान कर उनका अंतिम संस्कार करते हैं।''

    पत्नी थी इस काम से अनजान
    - पत्नी अंजली ने बताया, ''शुरुआत में मेरे पति ने मुझे इस बात का पता नहीं चलेने दिया कि वो ऐसा काम करते हैं। जब मैंने पहली बार सुना तो मुझे कुछ अजीब सा लगा। बाद में मुझे बहुत खुशी हुई कि मेरे पति इतने उपकार का काम करते हैं।''
    - ''जिन लोगों का दुनिया में कोई नहीं है, उनका अंतिम संस्कार कर जो पुण्य का काम होता है, मैं उनको अपने शब्दों में बयां नहीं कर पा रही हूं।''

  • पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा
    +4और स्लाइड देखें
    पत्नी अंजली ने बताया- शुरुआत में मेरे पति ने मुझे इस बात का पता नहीं चलेने दिया कि वो ऐसा काम करते हैं।
  • पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा
    +4और स्लाइड देखें
    मुझे बहुत खुशी हुई कि मेरे पति इतने उपकार का काम करते हैं।
  • पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा
    +4और स्लाइड देखें
  • पति की इस बात से अंजान थी पत्नी, जब पता चला तो बोली- अजीब लगा
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jhansi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Man Funeral Of Unclaimed Dead Bodies
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jhansi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×