--Advertisement--

सरकार के खिलाफ प्रोटेस्ट का ये अनोखा तरीका, हैरत में पड़े लोग

ग्रेड मांग को बढ़ाने और नाम बदलवाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

Danik Bhaskar | Jan 18, 2018, 04:04 PM IST
अपनी 11 सूत्रीय मांगों को लेकर पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी कलेक्ट्रेट परिसर में धरना दे रहे हैं। अपनी 11 सूत्रीय मांगों को लेकर पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी कलेक्ट्रेट परिसर में धरना दे रहे हैं।

जालौन. यूपी के जलौन में सफाई कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ विरोध का एक अनोखा तरीका अपनाया। दरअसल, अपनी 11 सूत्रीय मांगों को लेकर पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी कलेक्ट्रेट परिसर में धरना दे रहे हैं। इस दौरान सरकार के खिलाफ विरोध जताते हुए सभी कर्मचारियों ने एक साथ सामूहिक मुंडन करवा लिया। ग्रेड मांग को बढ़ाने और नाम बदलवाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। सभी ने कराया सामूहिक मुंडन...



- यहां के उरई स्थित कलेक्ट्रेट परिसर में जिला पंचायती राज विभाग के अधीन करने वाले जनपद के 9 ब्लॉकों के सफाई कर्मचारी एकत्रित हुए।
- उन्होंने विभिन्न मांगों को प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गये।
- कई घंटों तक धरना देने के बाद सफाई कर्मचारियों ने अपनी मांगें शासन तक पहुंचाने के लिए अनोखा तरीका अपनाया। जहां एक साथ जालौन के सफाई कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी के बाद सामूहिक मुंडन कराया।
- सफाईकर्मियों के विरोध के इस तरीके को देखकर कलेक्ट्रेट में मौजूद सभी लोग हैरत में पड़ गये।

ये है उनकी मांगे

- पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के जिलामंत्री आशीष झा ने बताया कि विगत कई वर्षों से वह अपनी 11 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे है। लेकिन सरकार इस पर विचार नहीं कर रही है। कई बार सरकार ने आश्वासन दिया, लेकिन उस पर विचार नहीं किया। आज प्रदेश भर में पंचायती सफाई कर्मचारी प्रदेश सरकार के विरुद्ध अपना प्रदर्शन कर रहे है। हमारी मांगे है कि सरकार सफाई कर्मचारियों का नाम पंचायत सेवक करे। साथ ही, 1900 ग्रेड पे पर सभी सफाई कर्मचारियों को रखे।

ग्रेड मांग को बढ़ाने और नाम बदलवाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। ग्रेड मांग को बढ़ाने और नाम बदलवाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।