Hindi News »Uttar Pradesh »Jhansi» Shankaracharya Nishchalanand Saraswati Comments At Pm Modi

ये हमारा दुर्भाग्य, आजाद भारत में हम मंदिर नहीं बनवा सकते: शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती

शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती रविवार से दो दिनों के लिए झांसी आए थे।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 11:27 AM IST

  • ये हमारा दुर्भाग्य, आजाद भारत में हम मंदिर नहीं बनवा सकते:  शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती
    +2और स्लाइड देखें
    रविवार को दो दिनों के दौरे पर स्वामी निश्चलानंद सरस्वती झांसी आए थे।
    झांसी.गोवर्धन मठ पुरी के शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती महाराज ने पीएम मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने कहा- "इस वक्त 300 से ज्यादा गोरक्षक मार दिए गए। इसमें सेना और पुलिस के जवान शामिल है। कौन किसको मार रहा है। इसकी सच्चाई नहीं बताई जा रही है ? BJP पर लगाया आरोप...

    बीजेपी पर आरोप लगाते हुए शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती महाराज ने कहा, "बीजेपी का एक मंत्री गोहत्या का समर्थन करता है, पीएम मोदी गौरक्षकों के नाम पर गलत संदेश देते हैं। गौरक्षक आतंकवादी नहीं होते हैं। देश के कई मुसलमान भी गौरक्षा का समर्थन करते हैं।

    रामलाला तंबू में नहीं होते-निश्चलानंद सरस्वती
    -शंकराचार्य ने अपनी मन की बात बताते हुए बताया, "मैं कई बार रामलला के दर्शन के लिए जाता हूं। मैं सोचता हूं, मंदिर-मस्जिद दोनों बन जाते,तो रामलला आज तंबू में नहीं होते। वो इस वक्त मंदिर में विराजमान होते। ये हमारा दुर्भाग्य है कि हम स्वतंत्र भारत में मंदिर नहीं बनवा पा रहे हैं।
    रविवार को झांसी आए थे शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती
    -गोवर्धन मठ पुरी के शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती रविवार-सोमवार दो दिनों के लिए झांसी आए थे। यहां पर उन्होंने लोगों को धर्म के बारे में जानकारी दी।
  • ये हमारा दुर्भाग्य, आजाद भारत में हम मंदिर नहीं बनवा सकते:  शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती
    +2और स्लाइड देखें
    गोवर्धन मठ पुरी के शंकराचार्य हैं निश्चलानंद सरस्वती महाराज
  • ये हमारा दुर्भाग्य, आजाद भारत में हम मंदिर नहीं बनवा सकते:  शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhansi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×