--Advertisement--

UP के मानिकपुर में वास्को डी गामा पटना एक्सप्रेस पटरी से उतरी; 3 की मौत, 13 जख्मी

हादसा चित्रकूट के माणिकपुर स्टेशन के पास सुबह करीब 4:18 का है।

Danik Bhaskar | Nov 24, 2017, 07:46 AM IST
ट्रेन पटना जंक्शन से चलकर गोवा के मडगांव स्टेशन जा रही थी। ट्रेन पटना जंक्शन से चलकर गोवा के मडगांव स्टेशन जा रही थी।

चित्रकूट.उत्तर प्रदेश में वास्को डी गामा-पटना एक्सप्रेस शुक्रवार सुबह पटरी से उतर गई। इस हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई और 13 जख्मी हो गए। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतरे। ट्रेन गोवा के मडगांव स्टेशन से चलकर पटना जा रही थी। बाद में ट्रेन को सात कोच के साथ पटना रवाना कर दिया गया। बता दें कि रेलवे बोर्ड के चैयरमेन गुरुवर को लखनऊ में ही थे। वे सुरक्षा उपायों का जायजा लेने पहुंचे थे।कहां हुआ हादसा?

- हादसा चित्रकूट के मानिकपुर स्टेशन के पास सुबह करीब 4:18 बजे हुआ। झांसी-इलाहाबाद और इलाहाबाद-चित्रकूट पैसेंजर ट्रेन को रद्द कर दिया गया।

हादसे की वजह क्या रही?

- इसे लेकर अलग-अलग बातें सामने आईंं। घटना के कुछ देर बाद यूपी के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) ने स्थानीय लोगों के हवाले से बताया कि हादसा पटरी के टूटने की वजह से हुआ है। दूसरी तरफ, प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम अरविंद कुमार ने बताया कि यह हादसा तकनीकी खराबी की वजह से हुआ। उन्होंने यह बात रेलवे अफसरों के हवाले से मीडिया से कही।

- इससे पहले, चित्रकूट के डीएम शिवाकांत द्विवेदी का कहना है कि हादसे की वजह अभी साफ नहीं है।

कितना नुकसान हुआ?

- हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। इनमें एक ही परिवार के बाप-बेटे शामिल हैं। ये बिहार के बेतिया के रहने वाले थे। तीसरे शख्स के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

रेलवे ने क्या कदम उठाए?

- हादसे के बाद वास्को डी गामा-पटना एक्सप्रेस को 7 कोच के साथ पटना के लिए रवाना कर दिया गया। इससे पहले राहत और बचाव कार्य के लिए इलाहाबाद से मेडिकल टीम को रवाना किया गया था।

- रेलवे ने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपए देने का एलान किया। वहीं, जख्मी पैसेंजर को 1 लाख रुपए देने की बात कही। हादसे के उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिये गये हैं।

रेलवे की तरफ से जारी हेल्पलाइन नंबर
- इलाहाबाद: (0532)- 2408149,2408128, 2407353
- मिर्जापुर: (05442)- 220095, 220096
- चुनार: (05443)- 222487,222137, 290049

यूपी में इस साल कब-कब पटरी से उतरी ट्रेन
- 7 सितंबर:हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस का इंजन और 6 डिब्बे सोनभद्र के फफराकुण्ड स्टेशन के पास पटरी से उतर गए। हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ।
- 20 अगस्त:यूपी के मुजफ्फरनगर में खतौली रेलवे स्टेशन के पास पुरी-हरिद्वार एक्सप्रेस (उत्कल एक्सप्रेस) के 12 डि‍ब्बे पटरी से उतरे। हादसे में 23 लोगों की मौत हुई है।

UP में डेढ़ साल में हुए बड़े रेल हादसे
- 20 फरवरी 2017: कालिन्दी एक्सप्रेस के टुंडला में 12 डिब्बे पटरी से उतरे। 23 की मौत।
- 20 नवंबर 2016: कानपुर के पास इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसा। 121 लोगों की मौत।
- 20 मार्च 2015: रायबरेली के बछरावां के पास देहरादून-वाराणसी एक्सप्रेस हादसा। 32 की मौत।
- 1 अक्टूबर 2014:गोरखपुर में क्रासिंग पर दो ट्रेनों की आमने-सामने टक्कर। 14 की मौत।

ऐसा कहा जा रहा है कि हादसा पटरी में दरार आने की वजह से हुआ है। ऐसा कहा जा रहा है कि हादसा पटरी में दरार आने की वजह से हुआ है।
इस हादसे में तीन लोगों की मौत, 13 लोग जख्मी है। इस हादसे में तीन लोगों की मौत, 13 लोग जख्मी है।
मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है। मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है।
इसके अलावा गंभीर रुप से घायलों को 1-1 लाख और सामान्य घायलों को 50-50 हजार रुपए देने का एलान किया गया है। इसके अलावा गंभीर रुप से घायलों को 1-1 लाख और सामान्य घायलों को 50-50 हजार रुपए देने का एलान किया गया है।