--Advertisement--

झांसी में CM योगी की चुनावी जनसभा, मुक्ताकाशी मंच से करेंगे एड्रेस

झांसी. यहां शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ मुक्ताकाशी मंच से चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे।

Danik Bhaskar

Nov 24, 2017, 11:09 AM IST
इन दिनों सीएम योगी निकाय चुनाव इन दिनों सीएम योगी निकाय चुनाव

झांसी. निकाय चुनाव के लिए प्रचार के लिए सीएम योगी झांसी पहुंचे। जनसभा के दौरान सीएम योगी ने कहा, "22 करोड़ जनता का पैसा बर्बाद नहीं होने देंगे। बुंदेलखंड को एक्सप्रेस - वे से जोड़ने का काम चल रहा है। वो दिन दूर नहीं है, जब देश के लोगों को नौकरी के लिए बुंदेलखंड आना पड़ेगा। बुंदेलखंड के 7 बड़े जिलों में बड़ी गौशालाएं बनाई जाएंगी, हर गौशाला में ढाई से तीन हज़ार गाय को रखने की व्यवस्था की जाएगी। पिछली सरकार ने धोखा किया: योगी

- सपा और बसपा पर हमला बोलते हुए योगी ने कहा, "पिछली सरकारों ने विकास के नाम पर जनता से धोखा किया है। जनता के पैसे का सही इस्तेमाल नहीं किया गया है।अब ऐसा नहीं होगा। जनता का पैसा जनता के विकास में लगेगा। स्ट्रीट लाइट में अब एलईडी का इस्तेमाल किया जायेगा, इससे बिजली की बचत होगी।

पहले निवेश के लिए नहीं था माहौल: योगी

- सीएम योगी ने कहा, "पिछले कुछ दिनों में इतने सारे विदेशी प्रतिनिधिमंडल से मिले, जिसमें विश्व के सबसे अमीर आदमी बिल गेट्स भी शामिल थे। वे सभी यूपी में निवेश करना चाहते हैं। मैंने उनसे पूछा कि उन्होंने पहले ऐसा क्यों नहीं किया। उन्होंने कहा कि- "इससे पहले की स्थिति काफी अनुकूल नहीं थी।"

वेस्ट यूपी में जनसभाएं कर चुके हैं CM

- इससे पहले निकाय चुनाव को लेकर सीएम योगी ने मुजफ्फरनगर, मेरठ और गाजियाबाद में जनसभाएं की थी। जहां उन्होंने कहा था, "हमारी सरकार ने अवैध बूचड़खानों को बंद किया। पिछली किसी सरकार में इतनी हिम्मत नहीं थी कि वो इन स्लॉटर हाउस को बंद कर सके।''
- ''मैंने जब सत्ता संभाली तब प्रदेश में बहुत चुनौती थी। राजनीति का अपराधिकरण हावी था, दंगे, अपहरण और अराजकता के लिए प्रदेश कुख्यात हो गया था। हमारी सरकार ने आते ही सबसे पहले प्रदेश में कानून राज कायम करने की दिशा में काम किया। इसमें वेस्ट यूपी ने अच्छा काम किया।''
- ''प्रदेश में सम्मानजनक जीवन जीने के लिए कानून का पालन करना होगा। कानून को ठेंगा दिखाने वाले के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। पहले अपराध के चलते प्रदेश में पलायन होते थे, अब अपराधी प्रदेश से पलायन कर रहे हैं।''
- पिछली सरकारों ने कोई काम नहीं किया। कांवड़ यात्रा में लाउडस्पीकर पर पाबंदी लगा दी, इससे अशांति फैल सकती थी। हमारी सरकार ने पाबंदी हटा दी, क्योंकि यह शव यात्रा नहीं शिव यात्रा है। घंटे-लाउडस्पीकर सब बजेंगे। इस बार 4 करोड़ शिवभक्त कावंड़ियां यात्रा में शामिल हुए और कहीं कोई अशांति नहीं हुई।
- पूर्व की सरकारों ने सिर्फ कावंड़ यात्रा को बदनाम करने का काम किया, हमनें शिवभक्तों को सम्मान देने का काम किया।
- BSP सरकार ने थानों-मंदिरों में जन्माष्टमी मनाने पर रोक लगा दी थी। ऐसा शायद इसलिए किया गया क्योंकि उन्हें पहले अयोध्या मंदिर के नाम पर करंट लगता था,और फिर मंदिरों में जन्माष्टमी के नाम पर भी करंट लगने लगा।
- हमने कहा कि जन्माष्टमी मनाओ, लेकिन भजन कीर्तन हो, कोई अश्लीलता न हो। पुलिस कर्मियों ने इस बार उत्साह के साथ जन्माष्टमी का त्योहार मनाया।

Click to listen..