Hindi News »Uttar Pradesh »Jhansi» Death Of A Child Due To Negligence In Treatment In Banda

छोटे भाई का शव गोद में लेकर DM के पास पहुंचा बड़ा भाई, कहा- हमारे पास नहीं थे पैसे इसलिए डॉक्टरों ने नहीं किया इलाज

स्टॉफ ने परिजनों से इलाज के लिए पांच हजार रुपए की मांग की थी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Apr 20, 2018, 08:14 PM IST

    • बांदा.जिले के राजकीय मेडिकल कॉलेज के गुरुवार को डॉक्टरों की लापरवाही के कारण एक मासूम बच्चे की मौत हो गई। लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने कहा कि डॉक्टरों को पैसा नहीं मिला जिस कारण इलाज नहीं किया गया। बांदा देहात कोतवाली के पचनेही निवासी 5 वर्षीय विनोद को गुरुवार सुबह तेज बुखार के बाद उसके परिजन राजकीय मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे थे।

      - यहां ओपीडी में इंचार्ज डॉ अनूप कुमार के स्टॉफ ने पीड़ित परिजन से पांच हजार रुपए की मांग की और पैसा देने में असमर्थता जताने पर डॉ अनूप पीड़ित मासूम का इलाज करने के बजाय राउंड में निकल गए।
      - पीड़ित परिजन बच्चे को लेकर दो घंटे तक दुसरे डॉक्टरों की चौखट पर इलाज के लिए गुहार लगाते रहे, लेकिन किसी ने भी इलाज नहीं किया। विनोद की तबियत बिगड़ने पर परिजन उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे लेकिन तब तक बच्चे की मौत हो गई थी।

      शव लेकर कलेक्ट्रट पहुंचा भाई
      - बच्चे की मौत के बाद बड़ा भाई पुष्पराज और ब्रजराज बच्चे का शव को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचा और डीएम को अपनी फरियाद सनाई। डीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई का आदेश दिया, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

      - डीएम दिव्य प्रकाश गिरी ने कहा कि मामले में जांच के लिए कमेठी बना दी गई है और जांच के निर्देश दिए गए हैं।

      क्या कहना है मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल का?

      - वहीं, इस मामले में जब मेडिकल कॉलेज के प्रिंसपल डॉ विजेन्द्रनाथ से पूछा गया तो उन्होंने अपने स्टॉफ का बचाव किया। हालांकि इमरजेंसी में तैनात डॉ अनूप के द्वारा बच्चे का प्राथमिक उपचार नहीं करने की बात उन्होंने स्वीकार की है।

    • छोटे भाई का शव गोद में लेकर DM के पास पहुंचा बड़ा भाई, कहा- हमारे पास नहीं थे पैसे इसलिए डॉक्टरों ने नहीं किया इलाज
      +2और स्लाइड देखें
      मेडिकल कॉलेज का स्टॉफ पीड़ित परिजन से 5 हजार रुपए की मांग कर रहा था।
    • छोटे भाई का शव गोद में लेकर DM के पास पहुंचा बड़ा भाई, कहा- हमारे पास नहीं थे पैसे इसलिए डॉक्टरों ने नहीं किया इलाज
      +2और स्लाइड देखें
      मामले में डीएम ने जांच के आदेश दिए हैं।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Jhansi

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×