चित्रकूट / सपा नेता ने पत्नी की हत्या कर शव से बांधा वजनी पत्थर, बांध में फेंकने लगा तो पलट गई नाव, गोताखोर तलाश में जुटे

पुलिस ने नाविक को हिरासत में लिया। पुलिस ने नाविक को हिरासत में लिया।
पुलिस नाविक से कर रही पूछताछ। पुलिस नाविक से कर रही पूछताछ।
मौके पर पुलिस के अफसर व अन्य। मौके पर पुलिस के अफसर व अन्य।
बांध में लापता सपा नेता व उसकी पत्नी की तलाश करते गोताखोर। बांध में लापता सपा नेता व उसकी पत्नी की तलाश करते गोताखोर।
X
पुलिस ने नाविक को हिरासत में लिया।पुलिस ने नाविक को हिरासत में लिया।
पुलिस नाविक से कर रही पूछताछ।पुलिस नाविक से कर रही पूछताछ।
मौके पर पुलिस के अफसर व अन्य।मौके पर पुलिस के अफसर व अन्य।
बांध में लापता सपा नेता व उसकी पत्नी की तलाश करते गोताखोर।बांध में लापता सपा नेता व उसकी पत्नी की तलाश करते गोताखोर।

  • चित्रकूट जिले के बरूआ बांध का मामला
  • सपा नेता के साथ रहा नाविक तैरकर बांध किनारे आया
  • बुधवार सुबह बांध पर मिली सपा नेता की गाड़ी
  • पुलिस ने नाविक को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 06:23 PM IST

चित्रकूट. उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले में बुधवार को एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां कर्वी सदर ब्लॉक की पूर्व प्रमुख दसौदिया देवी के ठेकेदार पौत्र व सपा नेता भरत दिवाकर मंगलवार रात अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद शव को बरुआ बांध में फेंकने पहुंचे। लेकिन बीच धारा में शव फेंकते समय अचानक नाव पलट गई। जिससे पत्नी व दिवाकर के साथ डूब गए। वहीं, उनके साथ रहा नाविक तैरकर किनारे आ गया। नाविक ने पुलिस को पूरी कहानी बताई है। पुलिस गोताखोरों की मदद से दंपती के शव की बरामदगी में लगी है। एएसपी बलवंत चौधरी व थानाध्यक्ष भरतकूप मौके पर हैं। 

लापता होने की मिली थी पुलिस को खबर
दरअसल, कर्वी पुलिस को बुधवार सुबह सूचना मिली कि, मुलायम नगर के नई बस्ती निवासी सपा नेता भरत दिवाकर संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हैं। पुलिस ने तफ्तीश बढ़ाई तो उनकी गाड़ी भरतकूप चौकी इलाके के बरुआ बांध पर मिली। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने गाड़ी से दिवाकर के कपड़े, जूते बरामद किए। गाड़ी में एक लेडीज चप्पल भी मिली है। पुलिस ने जांच की तो पता चला आखिरी बार दिवाकर को मछरिया गांव निवासी नाविक राम सेवक के साथ देखा गया था। पुलिस ने राम सेवक को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने पूरा राज उगल दिया। 

नाविक ने उगला राज, कहा- सपा नेता बीच धारा में डूब गया

रामसेवक ने पुलिस को बताया कि, सपा नेता भरत दिवाकर अपनी पत्नी मीनू की हत्या करके मंगलवार की रात्रि तीन बजे के आसपास बरुआ बांध लेकर आया था। बरुआ बांध में भरत का मछली आखेट का ठेका था। वह वहीं रहता था। भरत ने फोन कर नाव बांध के किनारे लाने की बात कही। किनारे पहुंचने पर भरत ने पत्नी की लाश नाव में रख दी। उसके बाद लाश के साथ वजनी पत्थर बांध दिया। इसके बाद बीच धारा चलने की बात कही। बीच धारा पहुंचने पर भरत ने लाश को उठाकर पानी में फेंकने की कोशिश की, तभी नाव पलट गई। भरत दिवाकर डूब गया। वहीं रामसेवक तैरकर किनारे आ गया। 

2015 में हुई थी शादी, एक बेटी, जो ननिहाल में 
पुलिस ने बताया कि, भरत दिवाकर की शादी मीनू के साथ 2015 में हुई थी। इनकी एक बेटी है, जो ननिहाल में पढ़ाई करती है। अभी तक बरुआ बांध में भरत व मीनू का शव पुलिस को बरामद नहीं हुआ। मौके पर एडिशनल एसपी बलवंत सिंह चौधरी व थाना भरतकूप पुलिस फोर्स के साथ मौजूद हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना