--Advertisement--

कर्ज नहीं पारिवारिक कलह के कारण आत्महत्या कर रहा है किसान, कृषि मंत्री का विवादास्पद बयान

बीजेपी सरकार किसानों की आय दोगुनी करने का काम कर ही है।

Danik Bhaskar | Jun 15, 2018, 07:04 PM IST
मंत्री ने कहा- सपा-बसपा सरकार म मंत्री ने कहा- सपा-बसपा सरकार म

चित्रकूट. प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने किसानों की आत्महत्या के लेकर शुक्रवार को एक विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने कहा, 'किसान पारिवारिक कलह या अन्य कारण से आत्महत्या करता है लेकिन मीडिया उस खबर को बढ़ा-चढ़ा कर पेश करती है और कर्ज के कारण आत्महत्या करना बताती है।' जौनपुर में हुई किसान की आत्महत्या की एक घटना का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि उक्त किसान ने पारिवारिक कलह के चलते आत्महत्या की और मीडिया ने उसे कर्ज के चलते आत्महत्या दिखाया।

- कैबिनेट मंत्री ने सपा-बसपा को घेरते हुए कहा कि किसानों की जो दयनीय हालत बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी की सरकार में थी किसानों की आत्महत्याएं इन सरकारों के कार्यकाल के दौरान सबसे ज़्यादा हुईं लेकिन हमारी सरकार में ये मामला न के बराबर है या यूं कहें कि भाजपा सरकार में किसानों द्वारा आत्महत्या की घटनाएं हो ही नहीं रही हैं।

सपा सरकार में किसान लाठी खाता था
- उन्होंने कहा कि सपा सरकार में किसान लाठी खाता था खाद और बीज के लिए। बसपा सरकार में भी यही हालत थी लेकिन जब से केंद्र व प्रदेश में बीजेपी की सरकार आई है किसानों की दशा व दिशा में काफी हद तक सुधार हुआ है। अब किसान आत्महत्या नहीं कर रहा, ऐसी घटनाएं बिल्कुल न के बराबर है क्योंकि हमने किसानों को लेकर इतनी कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं कि आत्महत्या जैसी घटना हो ही नहीं रही।

- पीएम मोदी किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास में पूरी शिद्दत से जुटे हैं। देश के जो जनपद विकास की दौड़ में सबसे पीछे रह गए उन्हें चयनित करते हुए उनके ग्रामीण इलाकों में कई कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं।

जनता का ध्यान भटका रहा है विपक्ष
- विपक्षियों को कोई मुद्दा नहीं मिल रहा तो वे जनता का ध्यान बंटाने की कोशिश में लगे हैं। कृषि मंत्री ने कहा कि नई तकनीकि के द्वारा किसान यदि खेती करें तो काफी हद तक उन्हें खेती का फायदा मिल सकता है सरकार इसके लिए जागरूक भी कर रही है।