जालौन / गर्भवती महिला को नहीं किया भर्ती, इलाज न मिलने से नवजात की मौत, परिजनों ने किया हंगामा



आक्रोशित महिलाओं को समझाते पुलिस कर्मी। आक्रोशित महिलाओं को समझाते पुलिस कर्मी।
X
आक्रोशित महिलाओं को समझाते पुलिस कर्मी।आक्रोशित महिलाओं को समझाते पुलिस कर्मी।

  • परिजनों ने मेडिकल स्टॉफ पर महिला को भर्ती न करने का आरोप लगाया
  • पुलिस ने फटकार कर रोड जाम खुलवाया, महिला की हालत गंभीर

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 01:32 PM IST

जालौन. उरई महिला जिला अस्पताल में बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां प्रसव पीड़ा पर पहुंची महिला को भर्ती नहीं किया गया। आखिरकार महिला ने अस्पताल परिसर में ही नवजात को जन्म दे दिया। लेकिन जन्मते ही नवजात की मौत हो गई। इस बात से नाराज परिजनों ने रोड जामकर प्रदर्शन किया। लेकिन पुलिस ने पीड़ितों को फटकार कर रोड जाम खुलवा दिया। महिला को अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। लेकिन उसकी हालत नाजुक है। 

 

बिना रेफरल कागज दिए भेजा मेडिकल कॉलेज

गोहन थाना व कस्बे के रहने वाले रवि कठेरिया की पत्नी रचना को उसके परिजनों ने गुरुवार की शाम महिला अस्पताल पहुंचाया। लेकिन अस्पताल के चिकित्सकों ने उसे भर्ती नहीं किया और मेडिकल कॉलेज भेज दिया। लेकिन रेफरल पर्ची न होने के कारण उसे वहां भी भर्ती नहीं किया गया। शुक्रवार सुबह परिजन रचना को लेकर एक बार फिर महिला अस्पताल पहुंचे। तब तक प्रसव पीड़ा तेज हो चुकी थी। उसे भर्ती करने की बात की गई, लेकिन मेडिकल स्टॉफ आनाकानी करते रहे। 

 

दोबारा अस्पताल लाए, पर नहीं किया भर्ती

वहीं, महिला ने अस्पताल परिसर में ही बच्चे को जन्म दे दिया। आरोप है कि, इसके बाद भी कोई भी स्टाफ नर्स या चिकित्सक महिला और उसके बच्चे को देखने नहीं आया। जिससे बच्चे ने अस्पताल परिसर में ही दम तोड़ दिया। इसके बाद परिजनों का आक्रोश बढ़ गया, सभी हंगामा करने लगे। अस्पताल गेट के बाहर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन परिजन हंगामा करते रहे। बाद में पुलिस ने डरा धमकाकर लोगों को वहां से हटाया, तब कहीं जाम खुला। महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां हालत खराब बताई जा रही है।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना