महोबा / 30 साल बाद जेल से छूटे शख्स ने छोटे भाई को लोहे की रॉड से पीटकर मार डाला, पकड़े जाने पर किया पछतावा



पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।
X
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

  • 32 साल पहले डकैती व हत्या के मामले में जेल गया था आरोपी
  • पुलिस ने आरोपी को भेजा जेल

Dainik Bhaskar

Mar 19, 2019, 05:57 PM IST

महोबा. हत्या और डकैती के मामले में 30 साल तक सजा काटने के बाद रिहा हुए एक व्यक्ति ने मंगलवार को लोहे की रॉड से पीट पीटकर अपने सगे भाई की हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर हत्या की वजह पूछी तो उसे अपने किए पर पछतावा हुआ। आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया है। 

नैनी जेल से हाल में छूटकर आया था घर

यह पूरा मामला महोबा कोतवाली क्षेत्र के पनागरपुरा मुहाल का है। गांव निवासी किशोरी लाल करीब 32 साल पहले डकैती व हत्या के मामले में जेल गया था। कोर्ट ने उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई। एक माह पहले नैनी जेल से वह रिहा होकर गांव लौटा था। मंगलवार को किशोरी लाल ने विवाद के बाद सगे भाई गयासी पर लोहे की राड से ताबड़तोड़ प्रहार कर दिया। पड़ोसियों ने आनन फानन में उसे जिला चिकित्सालय पहुंचाया। सीओ सिटी सहित कोतवाली पुलिस ने चिकित्सालय पहुंचकर घायल की हालत का जायजा लिया। डाक्टरों ने उसे झांसी मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। लेकिन झांसी जाते समय उसकी मौत हो गई। 

 

शराब पीकर हंगामा करता था छोटा भाई, इसलिए मारा

आरोपी किशोरीलाल ने बताया कि, करीब 32 साल पहले कोतवाली कुलपहाड़ क्षेत्र में हुई डकैती और हत्या के मामले में उसे आजीवन कारावास की सजा हुयी थी और वह नैनी जेल में लगभग तीस वर्षो से जेल काट रहा था और बीते दिनों ही उसकी रिहायी हुयी थी। किशोरीलाल ने कहा कि, गयासी आए दिन शराब पीकर हंगामा करता था। मना करने पर मारपीट करता और महिलाओं के साथ छेड़खानी करता था। नहीं माना मानने पर लोहे की सरिया से उसे मारा, लेकिन नहीं पता था कि वह मर जाएगा। 

 

अपराधी प्रवृत्ति का है आरोपी

पुलिस अधीक्षक स्वामीनाथ ने बताया की दो भाइयों के आपसी विवाद हुआ, बड़े भाई ने छोटे भाई के सर पर रॉड से वार कर दिया। हत्या करने वाला किशोरी लाल अपराधी प्रवृत्ति का है। उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना