--Advertisement--

दर्दनाक हादसा: सीट पर चिपका रह गया ये शख्स, गोद में था 5 साल का बेटा

खुटार थाने के पास हाईवे पर घने कोहरे के चलते बस और कार की आमने-सामने टक्कर हो गई।

Danik Bhaskar | Jan 09, 2018, 06:05 PM IST
हादसे में 5 साल के बच्चे समेत 3 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में 5 साल के बच्चे समेत 3 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई।

शाहजहांपुर. यहां सोमवार रात खुटार थाने के पास हाईवे पर घने कोहरे के चलते हुए सड़क हादसे में एक बच्चे समेत 3 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। बताया जा रहा है कि घने कोहरे के चलते एक बस और कार की आमन-सामने टक्कर हो गई और हादसा इतना भीषण था कि कार चालक की ड्राइविंग सीट पर ही तुरंत मौत हो गई। बस ड्राइवर ने खोया नियंत्रण...

ग्रामीणों के मुताबिक, हाईवे पर इतना घना कोहरा था कि 10 मीटर से आगे कुछ भी देख पाना मुश्किल हो रहा था, तभी शाहजहांपुर रोडवेज बस के ड्राइवर ने अपना नियंत्रण खो दिया और सामने से आ रही कार को टक्कर मार दी।

गोद में था 5 साल का बेटा

वहीं, हादसे में रौतापुर गांव के रहने वाले 30 साल के धर्मेन्द्र कुशवाहा, जो कार चला रहे थे, उनकी मौके पर ही मौत हो गई। उनकी गोद में उनका पांच साल का बेटा गिरधर कुशवाहा भी था जिसके मौक पर मौत हो गई। इनके अलावा धर्मेन्द्र के पड़ोसी संत कुमार की भी मौत हो गई, जबकि कार में मौजूद गुड्डू को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

'एक की हालत गंभीर'

खुटार थाने के एसओ बिरजाराम ने बताया कि धर्मेन्द्र, उनके 5 साल के बेटे और संत कुमार की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि गुड्डू की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है।

रिश्तेदार के घर जा रहे थे धर्मेन्द्र

एसओ ने बताया कि मृतक धर्मेन्द्र अपने बेटे और पड़ोसियों के साथ 2 किलोमीटर दूर लक्ष्मीपुर में रिश्तेदार के घर जा रहे थे। बस ड्राइवर घने कोहरे में कार को नहीं देख पाया और उसने कार को टक्कर मार दी। जिससे उसके परखच्चे उड़ गए। फिलहाल, सभी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

ड्राइवर-कंडक्टर फरार

एसओ बिरजाराम ने बताया कि घटना के बाद से बस ड्राइवर और कंडक्टर फरार हो गए। परिजनों की तरफ से तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा।

कोहरे के चलते हुए हादसा। कोहरे के चलते हुए हादसा।
रोडवेज बस और कार की आमने-सामने हुई थी टक्कर। रोडवेज बस और कार की आमने-सामने हुई थी टक्कर।
धर्मेन्द्र के एक पड़ोसी की भी हादसे में मौत हो गई। धर्मेन्द्र के एक पड़ोसी की भी हादसे में मौत हो गई।