--Advertisement--

बिस्तर जैसे कुछ यूं जमे मिले 90 करोड़- PHOTOS

कानपुर.NIA ने मंगलवार देर शाम छापेमारी कर एक बंद घर से करीब 90 करोड़ रु. के पुराने नोट बरामद किए।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 12:01 PM IST
कानपुर में बिल्डर के घर से मिल कानपुर में बिल्डर के घर से मिल

कानपुर (यूपी) . नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) और यूपी पुलिस ने मंगलवार देर शाम छापेमारी कर एक बंद घर से करीब 96 करोड़ रुपए की पुरानी करंसी बरामद की। नोट तीन कमरों में बिस्तर की तरह रखे गए थे। इस मामले में अब तक 16 लोगों को अरेस्ट में लिया गया है। वहीं, नोटों को ले जाने के लिए 5 बक्से मंगवाए गए, इनमें ही 96 करोड़ रुपए भरा गया। बता दें, कुछ समय पहले ही मेरठ पुलिस ने परतापुर थाना इलाके के राजकमल एन्क्लेव में प्रॉपर्टी डीलर और बिल्डर संजीव मित्तल के मकान में बने एक ऑफिस से लगभग 25 करोड़ रुपए की पुरानी करंसी बरामद की थी।

NIA के इनपुट्स पर हुई कार्रवाई

- उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनआईए के इनपुट्स पर यह कार्रवाई की गई।

- एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार ने बुधवार को बताया, "एक क्रिमिनल की जानकारी और एनआईए से इनपुट मिला था कि कुछ लोग पुराने नोट बदलने के लिए कानपुर के होटल में ठहरे हैं। इसके बाद लोकल पुलिस ने मंगलवार को होटल में रेड डाली। रेड के दौरान कुछ लोगों को अरेस्ट किया गया। इन लोगों की जानकारी पर ये पैसा बरामद किया गया।"

बिल्डर के घर से बरामद हुआ पैसा

-कानपुर के एक बिल्डर आनंद खत्री के घर से यह पैसा बरामद किया गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 96 करोड़ खत्री के घर पर दो से तीन कमरे में रखा मिला।

अब तक कितने लोग अरेस्ट हुए?

- इस मामले में अब तक 16 लोगों को अरेस्ट किया गया है। पुलिस का ये भी कहना है कि सरकारी अफसरों के शामिल होने की भी जांच की जा रही है।


96 करोड़ रुपयों के लिए मंगवाए बक्से

- बिल्डर आंनद खत्री के घर में देर रात से ही आलाधिकारी डेरा जमाए हुए हैं।
- स्वरूप नगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत बिल्डर आनंद खत्री के जिस बंगले में छापेमारी चल रही थी, उन नोट को हिफाजत से रखने के लिए बुधवार दोपहर एक रिक्शे में काकादेव क्षेत्र से 5 बक्से मंगवाए गए।
- छापेमारी के दौरान जब्त किए गए नोटों को सील कर आलाधिकारी सुरक्षित स्थान पर ले जाएंगे।

कौन है आनंद खत्री?
- कानपुर के स्वरूप नगर इलाके में रहने वाला आनंद खत्री गुजरात के सूरत का रहने वाला है। इसका रियल एस्टेट के काम के अलावा कपड़े का कारोबार भी है। सूरत में इसकी कुछ कपड़ा फैक्ट्रियां भी हैं।

- Dainikbhaskar.com को पुलिस सूत्रों ने बताया कि खत्री की रियल एस्टेट और कपड़ों के बिजनेस को मिलाकर कुल 21 कंपनियों की जानकारी सामने आई है। रियल स्टेट का कारोबार लखनऊ, नोएडा, कानपुर और सूरत में फैला है।

मेरठ में मिले थे 25 करोड़

- कुछ समय पहले ही मेरठ पुलिस ने परतापुर थाना इलाके के राजकमल एन्क्लेव में प्रॉपर्टी डीलर और बिल्डर संजीव मित्तल के मकान में बने एक ऑफिस से लगभग 25 करोड़ रुपए की पुरानी करंसी बरामद की थी।

- इस मामले में चार लोगों को अरेस्ट किया गया था। पुलिस ने बताया था कि ये लोग इस पैसे को एक नामी तेल कम्पनी के जरिए खपाना चाहते थे।

X
कानपुर में बिल्डर के घर से मिलकानपुर में बिल्डर के घर से मिल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..