--Advertisement--

पत्नी के घर से जाते ही बच्चों के साथ किया ऐसा,रोते हुए मासूम ने बताई ये बात

पैसों के लिए पिता की मासूम बच्ची की हत्या। ग्रामिणों के पहुंचने पर लगा लिया खुद को फांसी।

Dainik Bhaskar

Feb 06, 2018, 03:18 PM IST
बेटे को रोता देख ग्रामिणों ने जानी पूरी बात। बेटे को रोता देख ग्रामिणों ने जानी पूरी बात।

मैनपुरी. यूपी के मैनपुर में रविवार को एक पिता ने पैसों के लालच में अपनी मासूम बेटी की हत्या कर दी। इतना ही नहीं उसने छोटे बेटे-बेटी को भी मारने की कोशिश की, लेकिन ग्रामिणों ने उन्हें बचा लिया। वहीं, खुद को फंसता देख आरोपी पिता फंदे पर लटक गया, जिसे ग्रामिणों ने बचा लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और पिता को हिरासत में ले लिया। आगे पढ़िए क्या है पूरा मामला...

- मामला जिले के थाना घिरोर के ताहरपुर का है। यहां के रहने वाला शेर सिंह बेटी मुस्कान(12), अन्नु (9) और बेटे विवेक (6) के साथ रहता है। शेर सिंह अपनी पत्नी से पैसों को लेकर आएदिन लड़ता रहता था।
- इस वजह से नाराज होकर पत्नी अपने मायके चली गई। जिससे गुस्साए शेर सिंह अपने बच्चों को जान से मारने लगे। उसने पहले मुस्कान की गला घोंटकर हत्या कर दी। फिर अन्नु और विवेक को मारने के लिए दौड़ा।
- जब उसने अन्नु का गला दबाया तो विवेक दौड़कर रोता हुआ बाहर निकल आया। जिसे रोता देख आस-पास के लोगों को घटना का पता चला। फिर उन्होंने बच्ची को पिता के चुंगल से छुड़ाया।
- वहीं, अपने आपको फंसता देख आरोपी पिता फांसी के फंदे पर झूल गया, लेकिन लोगों ने उसे बचा कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पैसों के लिए लड़ता था पति
- पत्नी शरवेश कुमारी ने बताया कि एक साल पहले पति ने 10 लाख रुपए की जमीन बेची थी। जिसमें से उसने 5 लाख रुपए मुझे दे दिए थे। बच्चों के भविष्य को देखते हुए मैंने पैसे बैंक में जमा कर दिए थे।
- पति शेर सिंह की नजर फिर भी उन पैसों पर थी। आए दिन वो उन पैसों को वापस लाने के लिए झगड़ा करता था। इन सब से तंग होकर वो अपने मायके चली गई थी।
- फिर 2 फरवरी को यह सोचकर घर आई थी कि बच्चों के साथ रहूंगी। लेकिन रात में पति फिर से मारपीट करने लगा और पैसे न देने पर जान से मारने की धमकी भी दी।इन सब से पीछा छुड़ाने के लिए अगली सुबह पैसे लाने की बात कहकर मैं अपने मायके चली गई। जिसके बाद उसने मेरी बेटी को मार दिया।
- वहीं, मासूम विवेक ने बताया कि पापा ने गले मे कपड़ा डाल कर दीदी को मार दिया। मेरा भी गला जोर से दबा दिया था, जिससे सांस भी नहीं आ रही थी।

क्या कहती है पुलिस
- एसओ घिरोर एसआर गौतम ने बताया कि आरोपी पति पत्नी को लेने के लिए उसके मायके जाता था, लेकिन वह आने के लिए तैयार नहीं थी। वह बच्चों को भी अपने साथ ले जाना चाहती थी।

पिता ने की मासूम बच्ची की हत्या। पिता ने की मासूम बच्ची की हत्या।
ग्रामिणों ने मौके पर पहुंचकर छोटी बेटी की जान बचा ली। ग्रामिणों ने मौके पर पहुंचकर छोटी बेटी की जान बचा ली।
X
बेटे को रोता देख ग्रामिणों ने जानी पूरी बात।बेटे को रोता देख ग्रामिणों ने जानी पूरी बात।
पिता ने की मासूम बच्ची की हत्या।पिता ने की मासूम बच्ची की हत्या।
ग्रामिणों ने मौके पर पहुंचकर छोटी बेटी की जान बचा ली।ग्रामिणों ने मौके पर पहुंचकर छोटी बेटी की जान बचा ली।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..