Hindi News »Uttar Pradesh »Kanpur» Padmavati Like Sacrifice By Indian Princess To Avoid Invader Like Khilji And Ghori

पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम

चित्तौड़ की रानी को खिलजी तो कन्नौज की राजकुमारी को गोरी की वजह से करना पड़ा था जौहर।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 27, 2018, 11:09 AM IST

  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें

    कन्नौज.राजपूत रानी पद्मावती पर बनी संजय लीला भंसाली की फिल्म का विवाद रिलीज के बाद भी जारी है। रिलीज होने के साथ ही करणी सेना के सदस्यों ने मॉल-सिनेमा हॉल्स में तोड़फोड़ मचाई। चित्तौड़ की रानी पद्मावती ने अलाउद्दीन खिलजी से खुद को बचाने के लिए किले में रह रही तमाम महिलाओं के साथ जौहर किया था। ऐसी ही कुर्बानी कन्नौज की राजकुमारी संयुक्ता ने भी दी थी। DainikBhaskar.com अपने रीडर्स को इसी वीरांगना के बारे में बता रहा है।

    पूरी कहानी पृथ्वीराज चौहान के राजकवि चंद बरदाई द्वारा लिखित ग्रंथ 'पृथ्वीराज रासो' पर बेस्ड है।

    कौन थी संयुक्ता? इतिहासकारों में है विवाद

    - DainikBhaskar.com ने कन्नौज की राजकुमारी संयुक्ता का पूरा इतिहास जानने के लिए जाने-माने साहित्यकार विराम तिवारी और जीवन शुक्ला से बात की।
    - विराम तिवारी बताते हैं, "पृथ्वीराज रासो ग्रंथ के मुताबिक, कन्नौज के राजा जयचंद की बेटी संयुक्ता को पृथ्वीराज चौहान हरण कर ले गए थे। अन्य ग्रंथ रंभा मंजरी में उल्लेख है कि संयुक्ता राजा जयचंद की दासी की पुत्री थी, वहीं पृथ्वीराज रासो के मुताबिक वो जयचंद की बेटी थी।"
    - जीवन शुक्ला का कहना है, "इतिहास के पन्नों में कहीं नहीं लिखा कि जयचंद की कोई बेटी थी। उन्हें सिर्फ एक लड़का था। संयुक्ता का उल्लेख सिर्फ पृथ्वीराज रासो नाम के ग्रंथ में मिलता है, जिसके लेखक चंद बरदाई थे। बरदाई पृथ्वीराज के दरबारी कवि थे। इन्हीं की मदद से अंधे होने के बाद पृथ्वीराज चौहान ने मोहम्मद गोरी का खात्मा किया था।"

    ऐसी थी पृथ्वीराज और संयुक्ता की प्रेम कहानी

    - पृथ्वीराज रासो के मुताबिक, संयुक्ता कन्नौज के राजा जयचंद की बेटी थी। मुहम्मद गोरी ने दिल्ली पर 17 बार हमला किया था, जिसमें से 16 बार वहां के राजा पृथ्वीराज चौहान ने उसे पराजित किया था। उनकी इसी वीरता ने संयुक्ता का मन मोह लिया था।
    - पृथ्वीराज चौहान का राजदरबारी पन्ना रे अपने राजा की पेंटिंग लेकर कन्नौज गया था। संयुक्ता ने दिल्ली के राजा की वीरगाथा सुनी थी, पेंटिंग देखते ही वह पूरी तरह उन पर मोहित हो गई।
    - पन्ना रे संयुक्ता की पेंटिंग बनाकर पृथ्वीराज चौहान को दिखाने ले गया था। कन्नौज की राजकुमारी की खूबसूरती ने दिल्ली के राजा का दिल जीत लिया था।
    - पृथ्वीराज और जयचंद की पुरानी दुश्मनी थी। दोनों के बीच युद्ध भी हो चुके थे, फिर भी पृथ्वीराज और संयुक्ता की प्रेम कहानी परवान चढ़ रही थी।
    - पृथ्वीराज राजकुमारी से मिलने चोरी-छुपे दिल्ली से एक सुरंग के रास्ते कन्नौज आता था। कहा जाता है कि दिल्ली से जयचंद के किले बनी सुरंग आज भी मौजूद है, लेकिन उसकी खोज नहीं हो सकी है।

    - संयुक्ता और पृथ्वीराज चौहान की इस प्रेम गाथा पर टीवी सीरियल भी आ चुका है। यही नहीं, 1959 में 'सम्राट पृथ्वीराज चौहान' नाम की हिंदी और 1962 में 'रानी संयुक्ता' नाम से तमिल फिल्म बनी थी।

  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
  • पद्मावती के 200 साल बाद पैदा हुई थी ये राजकुमारी, वैसा ही हुआ था अंजाम
    +13और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kanpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Padmavati Like Sacrifice By Indian Princess To Avoid Invader Like Khilji And Ghori
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×