Hindi News »Uttar Pradesh News »Kanpur News» Police Caught Fake Inspector

जब असली पुलिस के सामने ही पीड़ित को पीटने लगा फर्जी इंस्पेक्टर,फिर हुआ ये

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 01, 2018, 08:10 PM IST

गंगा घाट पुलिस की मदद से फर्जी इंस्पेक्टर को पकड़कर थाने ले आई।
    • फर्जी इंस्पेक्टर ने दारोगा के सामने पीड़ित को ही पीट दिया।

      कानपुर. यूपी के कानपुर से एक वीडियो सामने आया है। जिसमें रियल दारोगा के सामने ही एक फर्जी इंस्पेक्टर वर्दी पहने पीड़ित को ही पीट रहा है। वहीं, दारोगा भी उस फर्जी इंस्पेक्टर को पहचान नहीं पाया। पीड़ित को पीटने के बाद वह बाइक से गायब हो जाता है। पुलिस ने मामले की छानबीन के बाद फर्जी इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही, उसके पास से पुलिस की वर्दी, नेम प्लेट, परिचय पत्र, वाकी-टाकी और एक पिस्टल भी बरामद कर ली है। आगे पढ़िए क्या है पूरा मामला...


      - फर्जी इंस्पेक्टर अजय सिंह मूल रूप से आगरा का रहने वाला है। वह उन्नाव के शुक्लागंज में किराए पर रहता था और खुद को गंगाघाट थाने का थानेदार बताता था।
      - जानकारी के मुताबिक, बुधवार को बाबू पुरवा थाना क्षेत्र निवासी बगाही के रतनीस अपने कार से जा रहे थे।
      - इस दौरान रास्ते में वह कार खड़ी करके चाय पीने चले गए। तभी एक लड़का आया और उनकी कार से बैग निकाल कर भागने लगा। जिसे रतनीस ने दौड़कर पकड़ लिया और इसकी सूचना 100 नंबर पुलिस को दी।
      - सूचना मिलते ही मौके पर बगाही थाना के दारोगा मुरलीधरन पाण्डेय पहुंच गए। जिसके बाद पीड़ित ने चोर को पुलिस के हवाले कर दिया।
      - तभी फर्जी इंस्पेक्टर अजय सिंह अपनी बाइक से पहुंच गया और आरोपी को छोड़कर पीड़ित रतनीस को ही जमकर पीटने लगा। फिर उस पीटने के बाद बाइक से भाग गया।
      - इस दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी फर्जी इंस्पेक्टर को पहचान नहीं पाए। इसके बाद दारोगा मुरलीधरन पाण्डेय ने उसके बाइक के नंबर से घर का पता निकाला। फिर उसे गंगा घाट पुलिस की मदद से पकड़कर थाने ले आई है।

      फिल्मों से आया ये आइडिया
      - फर्जी इंस्पेक्टर अजय सिंह ने बताया कि मैं पहले दरोगा की वर्दी पहन कर रौब गाठता था, लेकिन 8 महीने से इंस्पेक्टर की वर्दी पहन कर घूम रहा हूं।
      - मेरी दो बेटियां हैं, उनकी परवरिश करने के लिए मैं फर्जी पुलिस बनकर वसूली कर रहा था। अक्सर फिल्मों में फर्जी दरोगा बनकर वसूली करते हैं, मैंने सोचा यही तरीका कमाने का ठीक है। इसलिए यह सब करने लगा।


      क्या कहती है पुलिस
      एसपी साउथ अशोक कुमार के मुताबिक, "एक शख्स पकड़ा गया है, जो वर्दी पहन कर वसूली करता था। बुधवार जो घटना हुई थी, वहां पर भी इस शख्स ने मारपीट की थी। फिलहाल, अभी इसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।"

    • जब असली पुलिस के सामने ही पीड़ित को पीटने लगा फर्जी इंस्पेक्टर,फिर हुआ ये
      +4और स्लाइड देखें
      फर्जी इंस्पेक्टर अजय सिंह मूल रूप से आगरा का रहने वाला है।
    • जब असली पुलिस के सामने ही पीड़ित को पीटने लगा फर्जी इंस्पेक्टर,फिर हुआ ये
      +4और स्लाइड देखें
      वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी फर्जी इंस्पेक्टर को पहचान नहीं पाए।
    • जब असली पुलिस के सामने ही पीड़ित को पीटने लगा फर्जी इंस्पेक्टर,फिर हुआ ये
      +4और स्लाइड देखें
      दारोगा मुरलीधरन पाण्डेय ने उसके बाइक के नंबर से घर का पता निकाला। उसे गंगा घाट पुलिस की मदद से पकड़कर थाने ले आई है।
    • जब असली पुलिस के सामने ही पीड़ित को पीटने लगा फर्जी इंस्पेक्टर,फिर हुआ ये
      +4और स्लाइड देखें
      उसे गंगा घाट पुलिस की मदद से पकड़कर थाने ले आई है।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kanpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Police Caught Fake Inspector
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From Kanpur

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×