--Advertisement--

कानपुर में 90 करोड़ रु.के पुराने नोट बरामद, NIA की सूचना पर UP पुल‍िस ने मारी रेड

पुल‍िस ने एक ब‍िल्ड‍िंग और गोदाम में मंगलवार देर शाम छापेमारी कर करीब 90 करोड़ रुपए के पुराने नोट बरामद क‍िए हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 12:48 AM IST
1000 और 500 के पुराने नोट बिल्डर के 1000 और 500 के पुराने नोट बिल्डर के

कानपुर. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) और उत्तर प्रदेश पुलिस ने मंगलवार देर शाम छापेमारी कर एक बंद घर से करीब 96 करोड़ रुपए के पुराने नोट बरामद किए। ये घर यहां के एक नामी बिल्डर का है। नोट दो से तीन कमरों में बिस्तर की तरह रखे गए थे। अब तक 16 लोगों को अरेस्ट किया गया है। इस मामले के तार हैदराबाद, केरल, दिल्‍ली और मुंबई जैसे शहरों से जुड़े होने की आशंका जताई जा रही है।

कैसे हुई यह कार्रवाई?

- उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनआईए के इनपुट्स पर यह कार्रवाई की।

- एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) आनंद कुमार ने बुधवार को बताया, "एक क्रिमिनल की जानकारी और एनआईए से इनपुट मिला था कि कुछ लोग पुराने नोट बदलने के लिए कानपुर के होटल में ठहरे हैं। इसके बाद लोकल पुलिस ने मंगलवार को होटल में रेड डाली। रेड के दौरान कुछ लोगों को अरेस्ट किया गया। इन लोगों की जानकारी पर ये पैसा बरामद किया गया।"

कितना पैसा बरामद हुआ?

- 96 करोड़ रुपए के नोट बरामद किए गए। ऐसा कहा जा रहा है कि ये नोट 5,00 और 1,000 रुपए के हैं। ज्यादातर नोट 1000 रुपए के हैं।

किसके घर से हुई इतनी बड़ी बरामदी?

- कानपुर के एक बिल्डर आनंद खत्री के घर से यह पैसा बरामद किया गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 96 करोड़ खत्री के घर पर दो से तीन कमरे में रखा मिला।

अब तक कितने लोग अरेस्ट हुए?

- इस मामले में अब तक 16 लोगों को अरेस्ट किया गया है। पुलिस का ये भी कहना है कि सरकारी अफसरों के शामिल होने की भी जांच की जा रही है।

कौन है आनंद खत्री?


- कानपुर के स्वरूप नगर इलाके में रहने वाला आनंद खत्री का रियल एस्टेट के काम के अलावा कपड़े का कारोबार भी है। सूरत में इसकी कुछ कपड़ा फैक्ट्रियां भी हैं।

-पुलिस की हिरासत में आये मास्टरमाइंड बिल्डर आनन्द खत्री शहर के प्रतिष्ठित परिवार से ताल्लुक रखता है। आनन्द खत्री 7 भाइयों में 5 वे नम्बर का है।
-आंनद खत्री के पिता श्याम लाल ने अपने भाई रतन चंद्र के साथ कानपुर में एक कपड़े की छोटी दुकान से बिजनेस शुरू किया था। फिर दोनों लोगों का परिवार बढ़ता गया और दोनों लोगों ने अपनी अलग अलग शॉप बना ली। आज इनका बड़ी मात्रा में कपड़े का कारोबार है।
-आंनद अपने 7 भाइयों में से 6 भाइयों के साथ एक ही घर पर ही रहता है। जिसमे आनद खत्री ,कुशलराज खत्री, गोवर्धन, मूलचन्द्र, किशन चन्द्र, आनन्द, हरीश और तुलसी जिसमें मूलचंद गुजरात में रहकर अपना बिजनेस संभालते हैं।

मेरठ से मिले थे 25 करोड़ रुपए के पुराने नोट
- कुछ समय पहले ही पहले ही मेरठ पुलिस ने परतापुर थाना इलाके के राजकमल एन्क्लेव में प्रॉपर्टी डीलर और बिल्डर संजीव मित्तल के मकान में बने एक ऑफिस से लगभग 25 करोड़ रुपए की पुरानी करंसी बरामद की थी।

- इस मामले में चार लोगों को अरेस्ट किया गया था। पुलिस ने बताया था कि ये लोग इस पैसे को एक नामी तेल कंपनी के जरिए खपाना चाहते थे।

X
1000 और 500 के पुराने नोट बिल्डर के 1000 और 500 के पुराने नोट बिल्डर के
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..