Hindi News »Uttar Pradesh »Kanpur» Saint Waste 1100 Litre Milk In Ganga In Kanpur

संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब

गंगा इस देश में सिर्फ एक नदी नहीं है। यह लोगों की आस्था का विषय है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 04:49 PM IST

  • संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब
    +4और स्लाइड देखें
    गंगा में बहाया 1100 लिटर दूध।

    कानपुर. तमाम संगठन और संत गंगा प्रदूषण के नाम पर अपनी लोकप्रियता बढ़ाने में जुटे हैं। उन्हे ना तो गंगा से सरोकार है और ना ही आम आदमी से। दरअसल, यहां मंगलवार को गंगा अभिषेक के नाम पर संतों ने ग्यारह सौ लीटर दूध गंगा में बहा दिया। वहीं, जब उस दूध को बच्चों को देने के लिए कहा गया तो उन्होंने मानवता को शर्मशार करने वाला बयान दे डाला। अब चढ़ाएंगे सवा लाख लीटर दूध...

    - गंगा प्रदूषण को रोकने के नाम पर एक संस्था ने गंगा में ग्यारह सौ लीटर दूध बहाने का कार्यक्रम बनाया। जिसमें शहर के कई गेरुआ वस्त्रधारी भी शामिल हुए।
    - उन्होंने अपने हाथों से गंगा में दूध को बहाया और फोटों खिचवाएं। जब आयोजकों से गंगा में दूध बहाने का कारण पूछा गया तो उन्होंने कहा कि गंगा को अविरल और निर्मल बनाने के लिए एेसा किया है।
    - उनका कहना है कि वह बच्चों की सेवा कभी भी कर सकते हैं, लेकिन कानपुर के घाटों में गंगा वापस लाने के लिए दूध बहाना जरूरी है।
    - वहीं, जब एक संत से उस दुध को गरीब बच्चों को देने की बात कहीं गई तो वह भड़क गए। सन्यासी अरुण पूरी बेतुका बयान देने हुए कहा कि गंगा मैया के किनारे 40 लाख बच्चे पलते हैं। उनको दूध पिलाने से क्या होता, वह यूरिन और शौच में सारा दूध निकाल देते। हम लोग गंगा जी को स्वस्थ करने को दूध चढ़ा रहे है और अगले महीने सवा लाख लीटर दूध फिर चढ़ाएंगे।

  • संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब
    +4और स्लाइड देखें
    इसमें शहर के कई गेरुआ वस्त्रधारी भी शामिल हुए।
  • संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब
    +4और स्लाइड देखें
    उन्होंने अपने हाथों से गंगा में दूध को बहाया और फोटों खिचवाएं।
  • संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब
    +4और स्लाइड देखें
  • संतों ने गंगा में बहाया 1100 लि. दूध, गरीबों को दान करने की बात पर दिया ये शर्मनाक जवाब
    +4और स्लाइड देखें
    सन्यासी अरुण पूरी ने कहा कि हम लोग गंगा जी को स्वस्थ करने को दूध चढ़ा रहे है और अगले महीने सवा लाख लीटर दूध फिर चढ़ाएंगे।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×