इस बैंक के लॉकर में पैसों की जगह रखी जाती हैं अस्थियां, ये है वजह

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कानपुर. आमतौर पर बैंकों के लॉकर में पैसे या गहने रखे जाते हैं। लेकिन, यहां एक ऐसा अनोखा बैंक है, जहां मरने वाले व्यक्तियों की अस्थियां रखी जाती हैं। ये जानकर आपको आश्चर्य जरूर हो रहा होगा, लेकिन ये सच है कि यहां देश का एकमात्र ऐसा बैंक है, जहां अस्थियों को रखने के लिए लॉकर बने हुए हैं। DainikBhaskar.com की टीम ने यहां जाकर इस बैंक के पीछे की हकीकत जानने की कोशिश की। यहां अस्थियां रहती हैं सुरक्षित...

 

बता दें कि कानपुर के भैरव घाट स्थित शवदाह गृह पर ही 'अस्थि कलश बैंक' बनाया हुआ है। इसमें कुल 30 लॉकर भी बने हुए हैं। किसी व्यक्ति के अंतिम संस्कार के बाद उसके परिजन यहां पर अस्थि को सुरक्षित रख देते हैं और फिर किसी निर्धारित समय पर वापस निकालकर गंगा में विसर्जित कर देते हैं।

 

'लोगों की सुविधा के लिए बनाया बैंक'

'अस्थि कलश बैंक' की शुरुआत करने वाले मनोज सेंगर ने बताया, यहां कई लोगों के साथ दिक्कतें आती हैं कि वो प्रियजनों का दाह संस्कार करने के बाद उनकी अस्थियां घर नहीं ले जा सकते और ना ही कहीं और रख सकते हैं। ऐसे में हम लोगों ने इस बैंक का दिसंबर, 2014 में निर्माण किया।

 

'लॉकर के लिए बनाया जाता है कार्ड'

मनोज सेंगर ने बताया कि इस बैंक में लोग अपने प्रियजनों की अस्थियां रख सकते हैं। इसके लिए किसी से पैसे नहीं लिए जाते। एक कार्ड बनाया जाता है, जिसे दिखाकर कोई भी व्यक्ति अपने परिजनों की अस्थियां यहां से कभी भी ले जा सकता है।

 

ये है सुविधा

मनोज सेंगर ने बताया कि कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने प्रियजनों के दाह संस्कार में नहीं पहुंच पाते। ऐसी स्थिति में मृतक की अस्थियां यहां के लॉकर में रख दी जाती हैं और जब वो लोग आते हैं तो अस्थियों को निकालकर गंगा या अपनी सुविधाजनक स्थान पर विसर्जित करते हैं।

खबरें और भी हैं...