Hindi News »Uttar Pradesh »Kanpur» Special Story On IITian Rahul Patel Helping Youth For Job Opportunities

1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life

राहुल एक मोबाइल ऐप के जरिए गांव के युवाओं को नौकरी दिलाने का काम कर रहे हैं।

रवि गुप्ता | Last Modified - Jan 14, 2018, 12:13 PM IST

    • राहुल ने IIT गुवाहाटी से कैमिकल ट्रेड में बीटेक किया है।

      कानपुर. हर इंसान का सपना होता है कि वो जिंदगी में एक अच्छा मुकाम हासिल कर अपना और अपने परिवार की जरूरतों और सपनों को पूरा करे। इसके लिए इंसान दिन-रात मेहनत करता है। लेकिन, कुछ ऐसे भी लोग होते हैं, जिन्हें अपने सपनों से ज्यादा दूसरों की जरूरतों का ख्याल रखने का जुनून होता है। इन्हीं में से एक हैं 26 साल के राहुल पटेल, जिन्होंने सवा करोड़ रुपए का पैकेज छोड़ समाज के कमजोर तबके के लोगों की मदद को ही अपना करियर बना लिया। इसके लिए खुद को समर्पित किया...

      DainikBhaskar.com से खास बातचीत में राहुत ने बताया, आज के समय में हर इंसान अपने लिए करता है, लेकिन उनके लिए कोई कुछ नहीं करता जो सही जानकारी न मिल पाने की वजह से पीछे रह जाते हैं, इसलिए मैंने खुद को उन लोगों की मदद के लिए समर्पित कर दिया।

      सवा करोड़ की नौकरी छोड़ लौटे घर

      - बता दें कि यूपी के बांदा जिले में जन्में राहुल पटेल ने बताया कि वो बचपन से ही समाज के लिए कुछ करना चाहते थे।
      - राहुल बचपन से ही ब्राइट स्टूडेंट रहे हैं, इसलिए इनके पिता रणधीर सिंह बांदा छोड़कर कानपुर के नौबस्ता में शिफ्ट हो गए।
      - राहुल की स्कूलिंग कानपुर से ही हुई। इसके बाद उन्होंने 2013 में IIT गुवाहाटी से कैमिकल ट्रेड में बीटेक की पढ़ाई पूरी की।
      - इसके बाद राहुल ने हैदराबाद में करीब डेढ़ साल नौकरी की, लेकिन इस दौरान भी उनका मन कमजोर समाज के उत्थान के लिए ही लगा रहा।
      - नतीजा ये हुआ कि राहुल ने सवा करोड़ रुपए पैकेज वाली जॉब छोड़ दी और कानपुर वापस आ गए।

      लोगों के लिए कर रहे ऐसा

      - राहुल ने बताया कि 'मेरे बचपन का कुछ समय गांव में ही बीता, मैंने देखा कि वहां के लोग जानकारी के अभाव में पीछे रह जाते हैं।'
      - 'अगर ग्रामीणों को सही समय पर सही गाइडेंस मिल जाए तो उनका भविष्य सुधर सकता है।'
      - 'आजकल सब कुछ इंटरनेट पर उपलब्ध है। जब मैं यहां आया तो गांव के लोग इंटरनेट के बारे में कुछ खास नहीं जानते थे।'
      - 'तब मैंने सोचा कि अगर यहां के लोगों को मोबाइल पर नौकरी के बारे में जानकारी मिल जाए तो उनको आसानी से नौकरी मिल सकती है।'

      3 दोस्तों के साथ मिलकर बनाया ऐप

      - इसके बाद राहुल ने अपने कॉलेज के 3 दोस्तों के साथ मिलकर 2016 में 'EezyNaukari' नाम से एक मोबाइल ऐप बनाया।
      - राहुल ने बताया कि 'इस ऐप के जरिए कोई भी युवा अपनी योग्यता अनुसार नौकरी आसानी से सर्च कर सकता है।'
      - उन्होंने कहा कि 'ऐप लॉन्चिंग के बाद मैंने कानपुर, बांदा, फतेहपुर और बुंदेलखंड में जाकर कई ग्रामीणों को बेरोजगार होने से बचाया।'

      '600 युवाओं को मिली नौकरी'

      - 'हमने गांव-गांव जाकर लोगों को ऐप के बार में जानकारी दी।'
      - 'लोगों को जॉब सर्च करना, फॉर्म भरना, डाटा अपलोड करना सिखाया।'
      - 'इस ऐप के माध्यम से अब तक 600 से ज्यादा युवाओं को नौकरी मिली है।'

      सरकार से सहयोग की दरकार

      - इसके खर्च पर पूछे गए सवाल को लेकर राहुल ने बताया कि 'जॉब के दौरान हम दोस्तों ने जो सेविंग की थी, उसी से अभी तक काम चल रहा है।'
      - 'हम इसके लिए सरकार से भी बात कर रहे हैं कि वो इसमें अपना सहयोग करें और ज्यादा से ज्यादा लोगों को बेरोजगार होने से बचाएं।

    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
      सवा करोड़ रुपए की जॉब छोड़कर राहुल कानपुर वापस लौट आए और यहां लोगों की मदद में जुट गए।
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
      राहुल ने हैदराबाद में करीब डेढ़ साल नौकरी भी की।
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
      मोबाइल ऐप 'EezyNaukari' के जरिए राहुल युवओं को नौकरी दिलाने में मदद करते हैं।
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
      'इस ऐप के माध्यम से अब तक 600 से ज्यादा युवाओं को नौकरी मिली: राहुल
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
      राहुल ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर मोबाइल ऐप बनाया।
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
    • 1.25Cr की जॉब छोड़ गांव में घूम रहा ये IITian, ऐसे बदल रहा लोगों की Life
      +9और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online

    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kanpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Special Story On IITian Rahul Patel Helping Youth For Job Opportunities
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Kanpur

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×