--Advertisement--

सड़कों पर आलू फेंकने का मामला: कन्नौज से हिरासत में लिए गए 2 लोग

6 जनवरी को लखनऊ की सड़कों पर आलू फेंका गया था।

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 09:43 AM IST
पकड़े गए दो लोग में एक अंकित चौ पकड़े गए दो लोग में एक अंकित चौ

लखनऊ. विधानसभा, सीएम आवास और राजभवन के बाहर सड़कों पर आलू फेंकने के मामले में पुलिस ने कन्नौज से दो लोगों को अरेस्ट किया है। पकड़े गए दो लोग में एक अंकित चौहान सपा का कार्यकर्ता है, जबकि दूसरा आरोपी प्रदीप लोडर मालिक है। अंकित तिर्वा कोतवाली के फगुहा भट्टा गांव का रहने वाला है। अखिलेश ने कसा तंज...

- अखिलेश ने कहा- "प्रदेश में किसान परेशान है। अगर किसी ने इसका विरोध किया तो कप्तान ने क्या बड़ा काम किया। अपराधियों को पकड़ने की इनकी हैसियत नहीं है। मैं इस कप्तान को अगली बार यश भारती दूंगा।"
-"मैं अपील करूँगा कि एक-एक बोरी आलू डीएम को भी दे दें। इन्हें पता नहीं है कि किसानों ने लोन लिया हुआ है। कोल्ड स्टोर में आलू सड़ रहा है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता किसान हैं। अगर वह लखनऊ आलू लाए तो क्या गलत किया।"

SSP ने किया खुलासा

-आलू कांड का खुलासा करते हुए एसएसपी ने कहा- "सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा ने करीब 10 हजार से ज्यादा नम्बरों को खंगाला। उसमें एक संदिग्ध नंबर संतोष पाल का मिला। जांच के दौरान बात साफ हो गई कि संतोष की गाड़ी सुबह 3.45 बजे इसी इलाके में सुबह में मिली थी।"

- "CCTV फुटेज में दिखी गाड़ी कन्नौज की है। पुलिस ने पता लगाया और फिर आरोपियों को पकड़ा। आरोपी ने कबूला कि हम लोगों ने आलू फेंका था।"

- आलू फेंकने की घटना साजिश की तरह की गई। इसमें कुल 6 लोग शामिल थे। संदीप कुक्कू चौहान,दीपेंद्र चौहान,प्रदीप सिंह बंगाली ,बड़े कुमार समेत 6 लोग शामिल थे।
-लोडर के ड्राइवर संतोष पाल ने बताया कि उस रात कुक्कू चौहान अपनी फॉर्च्यूनर में आगे चल रहा था। कुक्कू के साथ अंकित और दीपेन्द्र गाड़ी में बैठे थे।
-सतीश जाटव और अनुराग दोहरे के कोल्ड स्टोरेज से इन लोगों ने पुराना आलू लिया था। सतीष जाटव ने रामप्रसाद मिश्रा के कोल्ड स्टोरेज से खरीदा था।
- जय कुमार तिवारी भी इसमें शामिल थे, रात में मॉल एवेन्यू में ये लोग गये थे। किसके घर मे रुके थे इसके बारे में जानकारी की जा रही है। पकड़े गए संतोष और अंकित सपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं।

6 जनवरी को फेंका गया था आलू

- 6 जनवरी को लखनऊ की सड़कों पर आलू सुबह के वक्त देखने को मिला था । विरोधी दल के नेता इसे किसानों का गुस्सा बता रहे थे। उस वक्त कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा-सड़कों पर सड़े आलू फेंकवाए गए। ये वो आलू है जिनकों मंडियों से छांटकर बाहर कर दिया गया है। विपक्ष योगी सरकार को बदनाम करने की साजिश कर रहा है।


12 घंटे बाद हुई कार्रवाई
- वहीं इस मामले में 12 घंटे बाद लखनऊ एसएसपी दीपक कुमार के आदेश जारी करते हुए एक सब- इ्ंस्पेक्टर और 4 सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि गौतमपल्ली थाना क्षेत्र के सब इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार ( ड्यूटी पर नाइट ऑफिसर), कांस्टेबल अंकुर चौधरी, वेदप्रकाश, हजरतगंज थाने के कांस्टेबल कोमल सिंह, नवीन कुमार तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने का साथ जांच का आदेश दिया गया है।

X
पकड़े गए दो लोग में एक अंकित चौपकड़े गए दो लोग में एक अंकित चौ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..