--Advertisement--

वाइस प्रेसिडेंट ने स्टूडेंट्स दिए मेडल, बोले- हिन्दी पर गर्व होना चाहिए

कानपुर चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में उपराष्ट्रपति शामिल हुए।

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2017, 05:07 PM IST
कानपुर विश्वविद्यालय में 19वां कानपुर विश्वविद्यालय में 19वां

कानपुर (यूपी). यहां सोमवार को चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के 19वे दीक्षांत समारोह में देश के उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू पहुंचे। उन्होंने 25 छात्र व छात्राओं को मेडल पहनाकर उनको सम्मानित किया। इस दौरान 430 छात्र छात्राओं को डिग्रियां प्रदान की। जिसमें 7 स्टूडेंट्स को गोल्ड मेडल भी दिया गया। वन्देमातरम का विरोध गलत...

- उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने मंच से कहा, ''हिंदी राष्ट्र भाषा है और हमें अपनी राष्ट्र भाषा का सम्मान कर हिंदी में ही बात करनी चाहिए। हिंदी के बिना हिंदुस्तान का आगे बढ़ना संभव नहीं है।''
- ''हमारी हिंदी कमजोर है लेकिन हमें अपने घर पर हिंदी ही बोलना चाहिए। हमें राष्ट्र भाषा पर गर्व करना चाहिए। लोग वंदेमातरम का विरोध करते हैं जो गलत है। वन्देमातरम का मतलब मां तुझे प्रणाम है। इसमें क्या बुराई है।''
- ''एक चाय वाला देश का प्रधानमंत्री बन गया और पूरी दुनिया में उसका नाम है। मैं किसान होने के बावजूद उप राष्ट्रपति बन गया, कृषि और हमारे राष्ट्रभाषा का पाठ्यक्रम में भी होना चाहिए। नोट बंदी के समय जो पैसा बिस्तर के नीचे और टायलेट में छुपा था वह बैंक में पहुंच गया।''

ड्रेस कोड में नजर आए स्टूडेंट्स
- दीक्षांत समारोह की सबसे ख़ास बात यह रही कि छात्र छात्राएं ड्रेस कोड में नजर आए। छात्राएं नीला स्वेटर, सफ़ेद सलवार सूट व लाल चुन्नी में रही, जबकि छात्र सफेद शर्ट काले पैंट लाल रंग की टाई व नीले स्वेटर या ब्लेजर में रहे।
- दीक्षांत समारोह में उप राष्ट्रपति के साथ में कृषि मंत्री सूर्य प्रकश शाही ,राज्य पाल राम नाईक व सांसद मुरली मनोहर जोशी भी शामिल रहे।

X
कानपुर विश्वविद्यालय में 19वांकानपुर विश्वविद्यालय में 19वां
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..