--Advertisement--

फंदा काटकर लाश को नीचे उतारा, रात भर जगाता रहा-लेकिन नहीं उठी मां

बर्रा 7 में एक महिला ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 05:36 PM IST
रात भर लाश के बगल में बैठकर मां को उठाता रहा बेटा। रात भर लाश के बगल में बैठकर मां को उठाता रहा बेटा।

कानपुर. बर्रा इलाके से एक दिलदहला देने वाला मामले सामने आया है। यहां रविवार रात एक मां अपने दो मासूम बच्चों के सामने फांसी के फंदे पर झूल गई। वहीं, दोनों बच्चे पूरी रात अपनी मां की लाश के बगल में बैठकर उसे उठाने की कोशिश करते रहे। इसके बाद सुबह जब महिला का पति घर लौटा तो ये नजारा देख उसके होश उड़ गए। बच्चों के सामने मां ने लगाई फांसी...

बता दें कि बर्रा 7 में रहने वाला अंकित नाइट ड्यूटी पर दादा नगर स्थित फैक्ट्री गया था। घर में पत्नी गुड्डी (30), बेटा अभिषेक (5) और बेटी हिमांशी (4) ही मौजूद थे। तभी देर रात उसकी पत्नी गुड्डी (30) ने घर में ही दुपट्टे से फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

- अभिषेक ने बताया कि "मैं टीवी देख रहा था और मेरी बहन खाना खा रही थी। तभी अचानक मेरी बहन ने मुझसे कहा कि देखो मम्मी ये क्या कर रही है।"

- "मैंने देखा तो मां अपने दुपट्टे से खुद को फांसी लगा रही थी। मैंने उसे बहुत रोकने की कोशिश की, लेकिन उसने मुझे ढकेल दिया और मैं गिर गया।"

आगे की स्लाइड्स में जानें 5 साल के बच्चे ने कैसे फंदे से उतारी मां की लाश...

'कैंची से काटकर मां को नीचे उतारा'

 

- "इसके बाद मैंने घर में कैंची ढूंढी और दुपट्टे को काट दिया। फिर मां नीचे गिर गई। हम दोनों ने मां को बहुत उठाने की कोशिश की। उसके मुंह पर पानी के छीटे भी मारे, लेकिन वो नहीं उठी।"

 

- "मां ने दरवाजे पर ताला लगाया था इसलिए ना तो हम मां को अस्पताल ले जा पाए और ना ही किसी को मदद के लिए बुला सके। फिर हम दोनों भाई-बहन भी सो गए।"

ये नजारा देख रोने लगा पति

 

- सुबह फैक्टी से लौटे पति ने जब ये नजारा देखा तो उसके होश उड़ गए। वो बच्चों को पकड़कर रोने लगा। वो बार-बार यही कह रहा था कि अब मैं भी नहीं रह पाऊंगा।

 

- अंकित ने बताया कि "मेरा गुड्डी के साथ कोई लड़ाई-झगड़ा नहीं हुआ था। हम लोग गरीबी में जैसे-तैसे बच्चों को पाल रहे थे।"

'पता नहीं क्यों ऐसा कदम उठाया'

 

- अंकित ने कहा, "गुड्डी भी दूसरों के घरों में काम करती थी। हम दोनों मिलकर घर चलाते थे। लेकिन, ऐसी क्या बात थी कि उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया।"

 

- "गुड्डी ने इतना भी नहीं सोचा कि बच्चे कैसे रहेंगे। जब सुबह मैं ड्यूटी से घर लौटा तो बच्चों ने मुझे पूरी बात बताई। इसके बाद मैंने पुलिस और अपने रिश्तेदारों को जानकारी दी।"

'शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा'

 

- वहीं, सीओ प्रवीण कुमार के मुताबिक, "मृतका का पति रात को घर पर ही था और वो नशे की हालत में धुत पड़ा था। वो इतने नशे में था कि उसे पता नहीं चला कि उसकी पत्नी सुसाइड कर रही है।"