--Advertisement--

बेटी के गैंगरेप पर भड़के परिजन, आरोपी के दोस्त का किया ये हाल

मां को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया। इसके बाद लड़की(नाबालिग) को उठाकर सरसों के खेत में गए।

Danik Bhaskar | Nov 22, 2017, 06:28 PM IST
आरोपि‍यों के दोस्त की लड़की के परिजनों ने जमकर पिटाई की। आरोपि‍यों के दोस्त की लड़की के परिजनों ने जमकर पिटाई की।

कानपुर. यूपी के कानपुर में मंगलवार को बाहर जा रही मां-बेटी को घात लगाकर दबंगों ने दबोच लिया। मां को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया। इसके बाद लड़की(नाबालिग) को उठाकर सरसों के खेत में गए। जहां दोनों युवकों ने उसके साथ गैंगरेप किया और खून से लथपथ हालत में उसे छोड़ कर भाग गए। जब मां को होश आया तो बेटी के पास पहुंची, वहां उसकी हालत देख वो फिर से बेहोश हो गई। ये है पूरा मामला...

- घाटमपुर थाना क्षेत्र की रहने वाली बबिता देवी (काल्पनिक नाम) बेटी के साथ मंगलवार देर शाम किसी काम से घर से निकली थीं। खेतों पर पहले से घात लगाए बैठे विजय और श्याम बाबू ने मां-बेटी को दबोच लिया।
- इसके बाद मां पर को पीट-पीट कर बेहोश कर दिया। नाबालिग के साथ दोनों ने गैंगरेप किया और मौके से भाग निकले। गंभीर हालत में उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आरोपी के दोस्त को जमकर पीटा
- जानकारी के मुताबिक, लड़की के साथ गैंगरेप करने वाले आरोपी विजय कुमार-श्यामबाबू गहरे दोस्त हैं। दोनों ही पेशे से ट्रक ड्राइवर हैं।
- घटना से कुछ घंटे पहले ही दोनों आरोपियों को पीड़िता के चाचा के टेंट हाउस में नौकरी करने वाले नरेश के साथ शराब पीते देखा गया था।
- बुधवार को पीड़ि‍ता के परिजनों ने नरेश को दबोच लिया और उसकी जमकर पिटाई की। आरोपी के हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए और उसकी धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया।
- पुलिस को मौके से टूटे हुए सरसों के पेड़, हाथ की घड़ी और चूड़ियां पड़ी मिली हैं। लड़की के साथ आरोपियों ने हैवानियत की सारी हदें पार की। जिन्होंने लड़की को देखा उनका कहना था- पीड़िता की हालत ऐसी थी कि वो अपने पैरों पर खड़ी भी नहीं हो पा रही थी।

क्या कहती है पुलिस ?
- घाटमपुर इन्स्पेक्टर देवेंद्र दुबे के मुताबिक, पीड़ि‍ता के परिजनों की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया गया है। मां-बेटी का मेडिकल भी कराया गया है। इसके साथ ही बाकी के आरोपियों की तलाश भी की जा रही है।