--Advertisement--

जब GF ने दूल्हे को जयमाल से उठाया, 5 घंटे तक चला हाई वोल्टेज ड्रामा

कानपुर में एक युवक का जयमाल कार्यक्रम में उसकी GF पहुंच गई। जिससे शादी रोक दी गई।

Danik Bhaskar | Nov 24, 2017, 03:49 PM IST

कानपुर. यूपी के कानपुर में गुरूवार को एक युवक का जयमाल का कार्यक्रम चल रहा था। अचानक गेस्ट हाउस में पुलिस के साथ गर्लफ्रेंड पहुंची और उसे दूल्हें को जयमाल से उठवा लिया। पूरी रात बर्रा थाने में दोनों पक्षों में पंचायत होती रही। अंत में शादी रोक दी गई। ये है पूरा मामला...

- बर्रा थाना क्षेत्र के कर्रही में रहने वाले प्रेम नारायण के बड़े बेटे प्रशांत की शादी गुरुवार को मुखिया गेस्ट हाउस से थी। लड़के वालों ने बड़े धूम शाम से बारात लेकर गेस्ट पहुंची।
- बारात पहुंचने के बाद द्वार पूजा की रस्म अदा की गई। इसके बाद जयमाल के स्टेज पर दूल्हा बैठा ही था कि दुल्हे की गर्लफ्रेंड पुलिस के साथ पहुंच गई और जमकर हंगामा करने लगी।
- गर्लफ्रेंड के हंगामे के साथ ही लड़की पक्ष के लोग भी दुल्हे के परिजनों से भीड़ गए। बवाल होता देखा पुलिस ने दुल्हे व उनके परिजनों को थाने ले आई।

घर वाले GF से नहीं कराना चाहते थे शादी

- प्रशांत दादानगर स्थित प्लास्टिक फैक्ट्री में ठेकेदारी का काम करता था। 2 साल पहले उसकी दोस्ती में फैक्ट्री में काम करने वाली पालू सिंह चौहान से हुई थी। दोनों का अफेयर इतना परवान चढ़ा की बात शादी तक पहुंच गई।
- प्रशांत ने बताया, ''2 साल पहले हमारी दोस्ती पालू से हुई थी। मैंने पालू के परिजनों से शादी के लिए एक साल पहले बात की थी लेकिन उसके पैरेंट्स ने कहा था कि हम लोग छोटी जाति में शादी नहीं करेगे। अगर इसकी शादी कर देंगे तो हमारे 2 बच्चे और है उनकी शादी कैसे करेंगे।''
- ''इसके बाद भी मैं शादी के लिए प्रयास करता रहा लेकिन बात नहीं बन पाई। हालांकि दोनों का मिलना जारी रहा। इस दौरान घर वालो ने मेरी शादी पक्की कर दी। लड़की के पापा तैयार नहीं हुए तो हमने भी हां बोल दिया।''
- ''अब हमने लड़की से मिलना जुलना कम कर दिया। गुरूवार को मेरी शादी थी, इसकी जानकारी उसे नहीं था। पता नहीं यह सब कैसे पता चल गया। जो पुलिस के साथ आ धमकी।


मेरी जिंदगी बर्बाद हुई अब उसकी होगी

- लड़की ने कहा, ''मेरी प्रशांत से एक साल पहले शादी हुई थी, लेकिन मेरी बात कोई मानने को तैयार नहीं था। मुझे पता चला कि आज प्रशांत की शादी है तो मैंने 1090 पर सूचना दी।''
' ''उन्होंने मुझे बर्रा थाने जाने को कहा, मैं 2 बार थाने आई लेकिन मेरी सुनवाई नहीं हुई। इसके बाद फिर मैंने 1090 पर फोन किया तब पुलिस आई और ये शादी रूकवा दी है। मैं चाहती हूं कि इन्होंने मेरी जिन्दगी बर्बाद की है, तो यह मेरे साथ ही रहें। मैं किसी भी हाल में प्रशांत को नहीं छोडूंगी, इसके लिए मुझे कुछ भी करना पड़ें।
- सीओ गोविन्द नगर जनार्दन दुबे ने कहा, ''लड़के पक्ष की तरफ से लड़की पक्ष का जो भी खर्च हुआ है, उसका मुआवजा दिलवा दिया गया है। वही लड़के की महिला मित्र की तहरीर पर लड़के पर मुकदमा दर्ज कर मेडिकल के लिए भेजा गया है। मामले की जांच की जा रही है।''