Hindi News »Uttar Pradesh News »Kanpur News» 10 Incidents Of Molestation In Running Train

10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 02:20 PM IST

आबरू बचाने के लिए एक मां ने अपनी बेटी के साथ चलती ट्रेन से छलांग लगा दी।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    नेशनल वॉलीबॉल प्‍लेयर अरुणिमा सिंह को बदमाशों ने 12 अप्रैल, 2011 को चलती ट्रेन से फेंक दिया था।
    कानपुर. ट्रेनों में लगातार हो रही छेड़खानी की वारदातों ने रेलवे प्रशासन के सुरक्षा दावों की पोल खोल दी है। इसका ताजा उदाहरण जिले के चंदारी रेलवे स्टेशन के पास का है, जहां शनिवार की रात आबरू बचाने के लिए एक मां ने अपनी बेटी के साथ चलती ट्रेन से छलांग लगा दी। इस घटना से पूरे रेलवे प्रशसान में हड़कंप मचा हुआ है। हावड़ा से दिल्ली जा रही थी मां-बेटी...
    बता दें कि कोलकाता की रहने वाली महिला हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस (12307) से दिल्ली अपने पति के पास जा रही थी। उसके साथ 14 साल की बेटी भी सफर कर रही थी।
    'बेटी को परेशान कर रहे थे बदमाश'
    - महिला ने बताया कि हावड़ा से ही कुछ लड़के ट्रेन में सवार हुए। रास्ते भर वो उसकी बेटी को परेशान कर रहे थे। महिला ने इसकी शिकायत ट्रेन में मौजूद रेलवे पुलिस से की, लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया।
    - महिला ने बताया, इसके बाद बदमाशों ने हद पार कर दी। महिला ने इलाहाबाद स्टेशन पर उनकी शिकायत जीआरपी से की। 3 लड़कों को ट्रेन से उतार लिया गया और पूछताछ के बाद फौरन छोड़ भी दिया गया।
    - उन्होंने बताया कि अगले स्टेशन पर फिर वो लड़के ट्रेन में चढ़ गए और इस बार दोनों से अश्लील हरकतें करने लगे। जब महिला को लगा कि अब परेशानी बढ़ गई है तो उसने बेटी के साथ चलती ट्रेन से छलांग लगा दी।
    'अब तक खाली हाथ पुलिस'
    वहीं, पुलिस अब तक आरोपियों की पहचान नहीं कर पाई है। जीआरपी के मुताबिक, पीड़ित की तहरीर पर शिकायत दर्ज की गई है और आरोपियों की पहचान की जा रही है।
    'लगातार सामने आ रही ऐसी घटनाएं'
    गौरतलब है कि ट्रेनों में महिलाओं के साथ बदसलूकी और छेड़खानी के मामले कई बार सामने आ चुके हैं। महिलाओं की सुरक्षा के तमाम दावों के बावजूद ट्रेनों में महिलाओं के साथ ऐसी घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं।
    आगे की स्लाइड्स में कुछ ऐसे ही मामले यूपी के हैं, जहां चलती ट्रेनों में महिलाओं को छेड़खानी और मारपीट का शिकार होना पड़ा-
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    पूरी रात रेलवे ट्रैक पर पड़ी रही थी ये ऐथलीट, गंवाना पड़ा एक पैर
    बरेली. साल 2011 में नेशनल वॉलीबॉल प्‍लेयर रहीं अरुणिमा सिन्हा को कुछ गुंडों ने चलती ट्रेन से फेंक दिया था. असहनीय दर्द में पूरी रात रेलवे ट्रैक पर गुजारने वाली अरुणिमा को इस हादसे में अपना एक पैर गंवाना पड़ा और उनके दूसरे पैर में रॉड लगाई गई. अरुणिमा के मुताबिक, वो लखनऊ से दिल्ली जा रही एक ट्रेन के जनरल डिब्बे में सफर कर रही थी. कुछ गुंडों ने उनके गले में पहनी सोने की चेन खींचने की कोशिश की और जब उन्होंने अपना बचाव करने का प्रयास किया, तो बदमाशों ने उन्हेंट्रेन से बाहर फेंक दिया. अरुणिमा बगल के ट्रैक से गुजर रही ट्रेन से टकरा गईं और फिर जमीन पर गिर गईं.
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    भाभी संग जा रही थी ससुराल, चलती ट्रेन में मनचलों ने की छेड़छाड़ और मारपीट
    लखनऊ. बदमाशों ने इस घटना को लखनऊ से रायपुर जा रही ट्रेन में अंजाम दिया। घटना 3 जुलाई, 2017 की रात करीब ढाई बजे की है। महिला का ससुराल खैरागढ़ में है। वह अपनी भाभी के साथ ट्रेन से ससुराल जा रही थी। सफर के दौरान उनकी बोगी में दो लड़के घुस गए और उन्होंने महिला के साथ छेड़खानी की। जब महिला और उसकी भाभी ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उनकी पिटाई कर दी और वहां से फरार हो गए।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    AC कोच में महिला से छेड़छाड़, सेना का अधिकारी गिरफ्तार
    कानपुर. ब्रह्मापुत्र एक्सप्रेस के ए-1 कोच की 13 नंबर सीट पर मुगलसराय की एक महिला सफर कर रही थी। इसी कोच में सेना में जेसीओ आरके तिवारी भी सफर कर रहे थे। ट्रेन कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर रुकी तो महिला के चिल्लाने पर जीआरपी प्रभारी फोर्स के साथ पहुंचे और आरोपी सेना के अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया। महिला का आरोप था कि जेसीओ ने उसके साथ ट्रेन में अश्लील हरकतें की थी।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    छेड़छाड़ का विरोध करने पर महिला को चलती ट्रेन से फेंका
    बागपत. यहां से महिला को छेड़खानी का विरोध करने पर ट्रेन से नीचे फेंकने की वारदात सामने आई। महिला पैसेंजर ट्रेन में सवार होकर सहारनपुर से दिल्ली जा रही थी, इसी दौरान तीन-चार युवकों ने अहेड़ा हाल्ट के पास महिला से छेड़छाड़ की। महिला ने अपने साथ हो रही छेड़खानी का विरोध किया जिसपर मनचलों ने उसे चलती ट्रेन से बाहर फेंक दिया और तो और महिला का मोबाइल भी छीन लिया।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    चलती ट्रेन में नशे में धुत आर्मी के जवान ने की महिला के साथ छेड़छाड़
    चंदौली. डिब्रूगढ़-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में गौहाटी से इलाहाबाद जा रही महिला के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया। महिला का आरोप था कि आधी रात को नशे में धुत आर्मी का जवान उसकी सीट के पास आया और उसके साथ छेड़छाड़ की। महिला ने इसकी शिकायत ट्रेन के टीटी से की और इसके बाद जीआरपी ने कानूनी कार्रवाई कर आरोपी को जेल भेज दिया।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    छेड़छाड़ का विरोध, महिलाओं ने 30 मिनट तक रोके रखी ट्रेन
    गाजियाबाद. लोनी रेलवे स्टेशन पर छेड़छाड़ की घटना के खिलाफ आक्रोशित महिलाओं ने शामली से दिल्ली जा रही पैसेंजर ट्रेन रोक दी और करीब 30 मिनट तक हंगामा किया। आरोप था कि ट्रेन में चढ़ने के दौरान एक युवक ने एक महिला के साथ छेड़खानी कर दी और भीड़ में ओझल हो गया। इसके बाद पीड़ित महिला ट्रेन से उतरकर इंजन के सामने खड़ी हो गई। उसके समर्थन में कई और महिलाएं आ गईं। महिलाओं का कहना था कि उनके लिए आरक्षित बोगी में युवक चढ़ जाते हैं। उनके साथ छेड़खानी और अभद्रता भी करते हैं। पुलिस की कोई व्यवस्था नहीं है।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    ट्रेन में महिलाओं से मारपीट
    लखनऊ. लखनऊ से कानपुर चलने वाली मेमो ट्रेन मे महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और मारपीट का मामला सामने आया था। इसमें इटावा की रहने वाली ग्रीन गैंग की महिलाएं लखनऊ में आयोजित एक सम्मान समारोह में शामिल होने जा रही थीं, तभी उनके साथ कई लड़कों ने ट्रेन में मारपीट की।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    ट्रेन में महिला से छेड़छाड़, रेलवे का चीफ इंजीनियर गिरफ्तार
    बाराबंकी. जीआरपी बाराबंकी ने चलती ट्रेन में महिला से छेड़खानी करने के आरोप में रेलवे के चीफ सिग्नल इंजीनियर को गिरफ्तार किया था। ये कार्रवाई रेल मंत्रालय को ट्विटर पर मिली शिकायत के आधार पर की गई थी। आरोप था कि राप्ती गंगा एक्सप्रेस के एसी फर्स्ट क्लास की बोगी में गोरखपुर से देहरादून जा रहे एक प्रोफेसर की पत्नी के साथ छेड़छाड़ हुई। इसकी शिकायत प्रोफेसर ने रेल मंत्रालय को ट्वीट कर दी। इसके बाद आनन-फानन में ट्रेन को बाराबंकी में रोका गया। तभी एक व्यक्ति ने भागने का प्रयास किया, जिसे गिरफ्तार किया गया। बाद में पता चला कि आरोपी पी.के. राय पूर्वोत्तर रेलवे के गोरखपुर हेडक्वार्टर में चीफ सिग्नल इंजीनियर पद पर तैनात है और इससे पहले वह आरडीएसओ में डायरेक्टर भी था।
  • 10 केस: कहीं खिलाड़ी को ट्रेन से फेंका तो कहीं इज्जत बचाने कूदी मां-बेटी
    +9और स्लाइड देखें
    ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ करने वाला मनचला दरोगा सस्‍पेंड
    गोरखपुर. बांद्रा से गोरखपुर आने वाली अवध एक्‍सप्रेस में पुलिस इंस्‍पेक्‍टर द्वारा महिला से छेड़छाड़ का मामला सामने आया। जिसके बाद दोषी इंस्‍पेक्‍टर को डीजी रेलवे के निर्देश पर सस्‍पेंड कर दिया गया। आरोप था कि ट्रेन में आरोपी इंस्‍पेक्‍टर तरुण कुमार पाण्‍डेय ने एक महिला से छेड़छाड़ की। जब ट्रेन गोरखपुर पहुंची तो महिला के परिवारवालों और यात्रियों ने इंस्‍पेक्‍टर की पिटाई कर दी। उसके बाद मौके पर पहुंचे जीआरपी के जवानों ने उसे हिरासत में ले लिया। जिसके बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kanpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 10 Incidents Of Molestation In Running Train
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Kanpur

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×