Hindi News »Uttar Pradesh »Kanpur» Ram Vilas Vedanti Commented On Ram Mandir Issue

मैंने विवादित ढांचा तुड़वाया था, इसकी जिम्मेदारी लेता हूं, चाहे तो फांसी दे दो: वेदांती

रामविलास वेदांती ने कहा कि पाकिस्तानी आतंकवादी नहीं चाहते हैं कि राम मंदिर मुद्दा खत्म हो।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 05, 2017, 06:00 PM IST

    • राम जन्म भूमि मुद्दे का हल हिन्दू-मुस्लिम एक साथ बैठकर निकालें: वेदांती
      कानपुर.जिले के किदवई नगर में हुए संत सम्मेलन में पहुंचे रामविलास वेदांती ने अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को विवादित ढांचा गिराए जाने की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि मैंने ही ये ढांचा गिरवाया था, ये बात मैंने कोर्ट में भी कही थी फिर से कह रहा हूं, चाहे तो मुझे फांसी दे दो। इस सम्मेलन में जगतगुरु शंकराचार्य वासुदेव सरस्वती महाराज, स्वामी चिन्मयानंद, साध्वी प्राची समेत कई महामंडलेश्वर मौजूद थे। यहां, राम मंदिर के मुद्दे पर विस्तर से चर्चा हुई।
      'वो राम मंदिर मुद्दा खत्म नहीं होने देना चाहते'
      श्री राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष रामविलास वेदांती ने कहा कि पाकिस्तानी आतंकवादी नहीं चाहते हैं कि राम मंदिर मुद्दा खत्म हो। साथ ही वो सुन्नी वक्फ बोर्ड को पैसे देकर ये झगड़ा खत्म नहीं होने देना चाहते।
      'सीएम योगी ने कर दिया श्री गणेश'
      इसके साथ ही उन्होंने कहा कि रामलला मंदिर का श्री गणेश 18 अक्टूबर, 2017 को प्रदेश के सीएम योगी जी ने कर दिया है। हिन्दू-मुस्लिम बैठकर इसका हल निकाले, इसके लिए मक्का-मदीना के इमाम, दिल्ली के इमाम बल्कि पूरे विश्व के इमामों को बुलाया जाए।
      'मध्यस्तता के लिए कोई भी आगे आ सकता है'
      रामविलास वेदांती ने कहा, मंदिर मुद्दे पर मध्यस्तता करने के लिए कोई भी आगे आ सकता है। चाहे वो हिन्दू हो या मुस्लिम, चाहे सिया वक्फ बोर्ड हो या सुन्नी वक्फ बोर्ड, चाहे कोई अपने देश का हो या विदशी। हम राम जन्म भूमि मुद्दे पर चर्चा के लिए हर तरह से तैयार हैं।
      'मैंने विवादित ढांचा तुड़वाया था'
      उन्होंने कहा कि लाखों लोग साक्षी हैं कि उस विवादित ढांचे को मैंने तुड़वाया। इसकी जिम्मेदारी मैं लेता हूं। इसके लिए चाहे मुझे फांसी पर लटका दो, राम लला के नाम पर मैं साधू बना, अब उन्हीं के नाम पर मैं मर जाना चाहता हूं।
      मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए- साध्वी प्राची
      वहीं, साध्वी प्राची ने कहा कि एक सिरफिरा व्यक्ति हिंदुस्तान के अन्दर कहता है कि हिन्दू धर्म आतंकवाद को बढ़ावा देता है। मुझे बड़ी शर्म आती है ऐसी बातें सुनकर और बड़ा अफसोस होता है। उस सिरफिरे को ये नहीं मालूम कि हिंदुस्तान की परंपरा, संस्कृति, धर्म क्या है। यह लोग हिन्दू धर्म को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं, ऐसे लोगों को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए। जिसको इस देश से प्यार नहीं उसे देश में रहने का अधिकार नहीं है।
    • मैंने विवादित ढांचा तुड़वाया था, इसकी जिम्मेदारी लेता हूं, चाहे तो फांसी दे दो: वेदांती
      +2और स्लाइड देखें
      जिसको इस देश से प्यार नहीं उसे देश में रहने का अधिकार नहीं है: साध्वी प्राची
    • मैंने विवादित ढांचा तुड़वाया था, इसकी जिम्मेदारी लेता हूं, चाहे तो फांसी दे दो: वेदांती
      +2और स्लाइड देखें
      किदवई नगर के एक लॉन में संत सम्मेलन का आयोजन किया गया था।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Kanpur

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×