--Advertisement--

अखिलेश यादव के लिए भाजपा की नई रणनीति, कन्नौज से उतार सकती है वीआईपी पैराशूट कैंडिडेट

सपा से डिंपल यादव को 489,164 (43.9%) वोट मिले थे जबकि बीजेपी के सुब्रत पाठक ने कड़ी टक्कर देते हुए 469,257 (42.1%) वोट पाए थे। सपा से डिंपल यादव को 489,164 (43.9%) वोट मिले थे जबकि बीजेपी के सुब्रत पाठक ने कड़ी टक्कर देते हुए 469,257 (42.1%) वोट पाए थे।
2014 लोकसभा चुनाव में कानपुर-बुंदेलखंड की 10 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 9 पर जीत दर्ज की थी अभी कनौज सीट से समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव सांसद हैं
Danik Bhaskar | Sep 04, 2018, 11:41 AM IST

कानपुर. 2019 लोकसभा के चुनाव में कन्नौज सीट पर रोमांचक मुकाबला देखने को मिल सकता है। इस सीट से 2014 में समाजवादी पार्टी से डिंपल यादव चुनाव जीती थीं। इस बार यहां से अखिलेश यादव चुनाव में उतर सकते हैं। वह पहले भी कन्नौज सीट का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। इस सीट पर भाजपा की नजर है। कन्नौज के भाजपा जिलाध्यक्ष नरेंद्र राजपूत का कहना है कि पार्टी कैंडिडेट कौन होगा यह केंद्रीय नेतृत्व तय करेगा लेकिन इस सीट से कोई वीआईपी चेहरा ही कैंडिडेट होगा ताकि यह सीट हमारे खाते में आ सके। 

 

 

2014 में रोचक रहा था मुकाबला: कानपुर-बुंदेलखंड की 10 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 2014 में 9 पर जीत दर्ज की थी। सिर्फ कन्नौज सीट हाथ से निकल गयी थी। सपा से डिंपल यादव को 489,164 (43.9%) वोट मिले थे जबकि भाजपा के सुब्रत पाठक को 469,257 (42.1%) वोट मिले थे। 

 

क्या कहा भाजपा जिलाध्यक्ष ने: कन्नौज के भाजपा जिलाध्यक्ष नरेंद्र राजपूत ने बताया कि 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को कन्नौज की तीन विधानसभा सीटों में से 2 पर जीत हासिल हुई है। छिबरामऊ और तिर्वा विधानसभा सीटें भाजपा के पास हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि 2014 लोकसभा चुनाव में प्रदेश में समाजवादी सरकार थी। इसका पूरा फायदा सपा ने उठाया था पोलिंग पार्टियों से लेकर पूरा प्रशानिक अमला उनका था। इसकी वजह से यह सीट भाजपा के हाथ से निकल गयी थी।

 

कैसी है भाजपा की तैयारी: उन्होंने बताया कि भाजपा के विकास कार्यो के साथ है हमें लोगो का भरपूर समर्थन मिल रहा है। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएंगे हमारी पकड़ इस सीट पर और भी मजबूत हो जाएगी। राजपूत ने बताया कि लोकसभा चुनाव से पूर्व हम जनपद में स्ट्रक्चर तैयार कर रहे हैं। हम गांव-गांव और कस्बों में जाकर केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार की नीतियों और विकास कार्यों की जानकारी दे रहे हैं। बूथ स्तर पर प्रबुद्धवर्ग को पार्टी का कार्यकर्ता बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे साथ युवाओं की बहुत बड़ी टीम है जो भाजपा कार्यकर्ता बने हैं और यही हमारी ताकत है। कोई भी ताकत भाजपा को कन्नौज लोकसभा सीट जीतने से नहीं रोक सकती है।
   

--Advertisement--